साकेत-एरोसिटी मेट्रो लाइन के एलिवेटेड कॉरिडोर और उसके स्टेशनों के निर्माण के लिए भी टेंडर प्रक्रिया की शुरू

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) फेज चार की मेट्रो परियोजनाओं के लिए अब तक चार टेंडर जारी कर चुका है। इसके तहत साकेत-एरोसिटी मेट्रो लाइन के एलिवेटेड कॉरिडोर और उसके स्टेशनों के निर्माण के लिए भी टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस मेट्रो लाइन के एलिवेटेड हिस्से पर डबल डेकर कॉरिडोर बनेगा। एक ही पिलर पर फ्लाईओवर और उसके ऊपर मेट्रो का कॉरिडोर होगा। इसके साथ ही जहां डबल डेकर कॉरिडोर खत्म होगा उसके थोड़ा आगे वाहनों के लिए अंडरपास भी बनेगा। टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के करीब तीन साल में यह कॉरिडोर बनकर तैयार होगा।

Loading...

कॉरिडोर की कुल लंबाई 20 किलोमीटर
साकेत-एरोसिटी कॉरिडोर की कुल लंबाई 20 किलोमीटर होगी। इस कॉरिडोर पर 12 भूमिगत स्टेशन व 4 एलिवेटेड स्टेशन शामिल होंगे। एलिवेटेड हिस्से के निर्माण के लिए ही डीएमआरसी ने टेंडर प्रक्रिया शुरू की है। करीब 716 करोड़ रुपये की लागत से इसका निर्माण होगा। इस एलिवेटेड कॉरिडोर पर संगम विहार, खानपुर, अंबेडकर नगर व साकेत जी ब्लॉक स्टेशन का निर्माण होगा।

साकेत जी ब्लॉक होगा इंटरचेंज स्टेशन 
साकेत जी ब्लॉक फेज चार के लाजपत नगर-साकेत मेट्रो लाइन के साथ इंटरचेंज स्टेशन होगा। इसके बनकर तैयार होने पर संगम विहार व खानपुर से आइटीओ व पुरानी दिल्ली जाने के इच्छुक लोग साकेत जी ब्लॉक व लाजपत नगर स्टेशन पर मेट्रो बदलकर वायलेट लाइन की मेट्रो आइटीओ, पुरानी दिल्ली व कश्मीरी गेट आसानी से पहुंच सकेंगे।

छह लेन का बनेगा फ्लाईओवर
डीएमआरसी का कहना है कि महरौली बदरपुर रोड पर संगम विहार से अंबेडकर नगर के बीच बनने वाले इस कॉरिडोर पर करीब 2.4 किलोमीटर हिस्सा डबल डेकर होगा, जिस पर छह लेन का फ्लाईओवर बनेगा। प्रस्तावित संगम विहार मेट्रो स्टेशन से थोड़ा आगे इस फ्लाईओवर का शुरुआती छोर होगा और अंतिम छोर अंबेडकर नंबर स्टेशन के बाद होगा। सड़क से 9.3 मीटर की ऊंचाई पर फ्लाईओवर और 18 मीटर की ऊंचाई पर मेट्रो कॉरिडोर होगा। यह कॉरिडोर पुराने बीआरटी को भी जोड़ेगा।

430 मीटर का अंडरपास
डीएमआरसी का कहना है कि साकेत में मंदिर मार्ग क्रॉसिंग के पास 430 मीटर का अंडरपास बनेगा। इससे संगम विहार से साकेत जी ब्लॉक तक ट्रैफिक सिग्नल फ्री होगा। उल्लेखनीय है कि मजलिस पार्क-मौजपुर मेट्रो लाइन कॉरिडोर के 1.40 किलोमीटर हिस्से पर डबल डेकर एलिवेटेड कॉरिडोर का निर्माण होना है। इसके निर्माण के लिए भी टेंडर प्रक्रिया पहले शुरू हो चुकी है।

डीएमआरसी ने फेज चार में प्रस्तावित जनकपुरी पश्चिम-आरके आश्रम कॉरिडोर के चार एलिवेटेड स्टेशनों और उसके बीच मेट्रो कॉरिडोर के निर्माण के लिए भी टेंडर प्रक्रिया शुरू की है। इसके तहत इस कॉरिडोर पर भलस्वा, मजलिस पार्क, आजादपुर व अशोक विहार मेट्रो स्टेशन बनाए जाएंगे। जनकपुरी पश्चिम-आरके आश्रम कॉरिडार की कुल लंबाई 28.89 किलोमीटर होगी। इसके 12.3 किलोमीटर हिस्से व 10 एलिवेटेड स्टेशन के निर्माण के लिए टेंडर प्रक्रिया डीएमआरसी पहले जारी कर चुका है। इसी क्रम में चार और स्टेशनों और उसके बीच कॉरिडोर के निर्माण के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू की है।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com