साइंस के अनुसार, ज़िदंगी में बहन की मौजूदगी बनाती है भाई को एक बेहतर इंसान

- in जीवनशैली

भाई बहन के रिश्ते की खूबसरती को बयां करने के लिए एक बड़ी ही प्यारी सी लाइन मुझे याद आती है कि तेरी-मेरी बनती नहीं, और तेरी मेरी बिना चलती भी नहीं, जी हां, कुछ ऐसा ही होता है ये रिश्ता, जहां तकरार तो होती है पर उस तकरार में भी प्यार छिपा होता है, जहां रूठना तो होता है पर झट से मना भी लेना होता है जहां एक-दूसरे को चिढ़ाने में, परेशान करने में मज़ा आता है पर एक-दूसरे की परेशानी देखकर दिल घबरा भी जाता है।साइंस के अनुसार, ज़िदंगी में बहन की मौजूदगी बनाती है भाई को एक बेहतर इंसान

भाई बहन के रिश्ते को अगर आप भी जी रहे हैं तो ये खास खबर आपके लिए हैं, जिसे पढ़कर सारी बहने तो खुश होने वाली हैं और अपने भाई से एक बड़े से थैंक्यू की भी उम्मीद करने वाली हैं को बिना देर किए आपको बता देते हैं कि पूरा मामला क्या है?

दरअसल, Journal of Family Psychology में छपे एक अध्ययन में ये बात सामने आई है कि बहन का होना, भाई को एक बेहतर इंसान बनाता है। तो हर वो भाई जो इतना लकी है कि उसके पास एक प्यारी सी बहन है, पर वो ये बात मानने से कतराता है उसे अब ये मानना ही होगा कि ज़िदंगी में बहन का होना खुशनसीबी है क्योकि अब साइंस ने इस बात को स्वीकार किया है।

इस रिसर्च में ये बात सामने आई है ज़िदंगी में बहन का होना पॉजिटिविटी लाता है।

बहन अपने भाई को खुश रखने के लिए हर मुमकिन कोशिश करती है और किसी भी एक पैरेंट की मौत के बाद अपने भाई को अकेला नहीं महसूस होने देती है।

अपने भाई के अंदर कॉन्फिडेंस और आत्म-सम्मान को बनाए रखने की भी बहन पूरी कोशिश करती है। Brigham Young University में हुई स्टडी में जो रिजल्ट सामने आया है वो भी कुछ इसी प्रकार इशारा करता है। इस रिसर्च के अनुसार, बहन का होना आपको दयालु, मेहनती और समझदार बनाता है।

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन ज़िदंगी में बहन की मौजूदगी भाई के बातचीत करने के तरीके को भी निखारती है।

इस रिसर्च में ये बात सामने आई कि जो लड़के अपनी बहन के साथ बड़े हुए उनका महिलाओं से बातचीत करने का तरीका, उन लड़कों से कईं गुना अच्छा था जो या तो अपने माता-पिता का इकलौती संतान थे या फिर जिनके केवल भाई थे।

ज़िदंगी में बहन की मौजूदगी के सिर्फ इतने ही फायदे नहीं है बल्कि और भी कईं फायदे हैं जो आपको चौंका सकते हैं। लाइफ में बहन के होने से भाई को स्वतंत्र, महत्वाकांक्षी बनने में मदद मिलती है साथ ही वे ज़िदंगी में एक बेहतर संतुलन स्थापित कर पाते हैं। असल में बहनों के होने से लड़कों में बातचीत करने के सही ढंग का विकास होता है, वो सही ढंग से अपनी बात को एक्सप्रेस कर पाते हैं और ये बहुत ही सकारात्मक है क्योकि इससे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य ठीक रहता है।

ये है भाई बहन के रिश्ते की खूबसूरती – तो अब आगे से जब कभी भी आप अपनी बहन की किसी बात से इरिटेट हो या फिर उसके इमोशनल बर्ताव पर गुस्सा करें, ये ज़रूर याद रखिएगा कि वो ही है जो आपकी ज़िंदगी में इतने सारे सकारात्मक बदलाव ला रही है और इस बात के लिए अपनी बहन को ज़ोर से हग करके थैंक्यू बोलना तो बनता है ना  !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

शेविंग के पहले और बाद में इन बातों का रखें ख्याल, नहीं होगा इंफेक्शन

जल्दी-जल्दी शेव करने से त्वचा खराब हो जाती