सबक सिखाने को सड़क पर लट्ठ लेकर निकलीं ADM साहिबा

rudrapur-sdm-deepti-vaishya-remove-encroachment_landscape_1458453056एजेन्सी/रुद्रपुर एडीएम दीप्ति वैश्य पुलिस फोर्स नहीं होने के चलते खुद डंडा लेकर अतिक्रमण हटाने मैदान में उतर पड़ी। इस दौरान उनकी विरोध कर रहे व्यापारियों से बहस भी हुई। व्यापारियों ने दबाव डालने का प्रयास भी किया, लेकिन वह नहीं झुकीं।एडीएम दीप्ति वैश्य के नेतृत्व में बाजार क्षेत्र में अतिक्रमण हटाने गई नगर निगम की टीम में शामिल एडीएम के गनर को दुकान स्वामी ने पाना मारकर घायल कर दिया। यही नहीं दुकानदार ने गनर को थप्पड़ भी जड़ दिए। बचाने पहुंचे कर्मचारियों को भी दुकान स्वामी ने नहीं बख्शा। उसने उनके साथ भी धक्कामुक्की की। इस घटना से एक घंटा मार्केट में अफरातफरी रही। एडीएम दीप्ति वैश्य ने दुकान स्वामी को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। उन्होंने दुकान स्वामी के खिलाफ तहरीर सौंपी है।शनिवार को नगर निगम की टीम एडीएम दीप्ति वैश्य के नेतृत्व में जेसीबी के साथ गांधी पार्क से लगती हुई दुकानों के पास पहुंचीं। जैसे ही निगम की टीम ने अतिक्रमण हटाना शुरू किया। एडीएम के गनर विजय ने जल्होत्रा टायर मालिक से सामान हटाने को कहा। इतने में बौखलाए दुकान स्वामी ने एडीएम दीप्ति वैश्य के सामने गनर को पीटना शुरू कर दिया। जैसे ही एडीएम और निगम कर्मचारी उसे बचाने लगे तब तक दुकान स्वामी ने एडीएम के गनर विजय सिंह के सिर पर पाना दे मारा।अतिक्रमण हटाने के दौरान अपने गनर को पिटता देख एडीएम दीप्ति वैश्य का भी पारा चढ़ गया और वह भी हमलावर पर टूट पड़ी। एडीएम दीप्ति वैश्य आरोपी को पकड़कर 50 मीटर तक घसीटते ले गई और अपनी गाड़ी में डाल सीधे बाजार चौकी पहुंची। वहां उन्होंने अपने गनर का पूरा साथ देते हुए अपने नाम से तहरीर दी। महिला अधिकारी की अपने गनर के बचाव में दिखाई गई बहादुरी की मौके पर मौजूद कई लोगों ने तारीफ की।अभियान के दौरान बौखलाए दुकान स्वामी ने उस समय तो गनर के पाना दे मारा। जैसे ही एडीएम उसे लेकर चौकी पहुंची तो वह एडीएम के सामने हाथ जोड़कर छोड़ने के लिए गिड़गिड़ाने लगा। यहां तक वह लिखित माफीनामा देने के लिए भी तैयार हो गया। लेकिन एडीएम नहीं मानी।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button