पति का फोन चेक किया तो महिलाये जाएगी जेल!

wife-mobile-husband_14_05_2016रियाद। सऊदी अरब में जानकारी दिए बगैर पति के टेलीफोन की जांच करने वाली महिला को जेल भेजा जा सकता है और उसकी पिटाई भी की जा सकती है। यह मामला देश के इस्लामिक कानून के अनुसार नहीं है लेकिन इसे निजता के उल्लंघन के रूप में देखा जा सकता है।

एक रिपोर्ट में दी गई है। यहां तक कि महिला न तो वाहन चला सकती है और न ही अपनी मर्जी से बाहर जा सकती है।

एक वकील मोहम्मद अल-तेमयत ने बताया कि यदि मामला दायर हुआ तो महिला को अदालत में लाया जा सकता है। तेमयत ने खुद को सऊदी सरकार के परिवार सुरक्षा कार्यक्रम का सदस्य बताया है। सोशल सर्विस तक पहुंच सुधारने के लिए 2005 में समिति गठित की गई थी।

इस अपराध के लिए दंड तय नहीं किया गया है क्योंकि यह इस्लामिक कानून के दायरे में नहीं आता है। इसलिए दंड न्यायिक विचार के दायरे में रखा गया है।

तेमयत ने कहा, “मैं यह स्पष्ट करना चाहूंगा कि इस विषय में पति और पत्नी शामिल हैं और यह ताजिर अपराध से जुड़ा है। संभव है कि शारीरिक दंड, जुर्माना, जेल, सिर्फ माफीनामा या फिर कोई सजा नहीं दी जा सकती है।”

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button