बड़ी खबर: संघ प्रमुख से मिलेंगे CM योगी, 1 साल के काम का देंगे हिसाब?

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने बीजेपी के लिए 2019 की सियासी जमीन तैयार करने की कवायद शुरू कर दी है. संघ प्रमुख मोहन भागवत ने इस मिशन का आगाज उत्तर प्रदेश से किया है. वे इन दिनों उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं. पूर्वांचल और अवध का मिजाज समझने के बाद ब्रज, बुंदेलखंड क्षेत्र के लिए आगरा प्रवास पर हैं. आज यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और संघ प्रमुख मोहन भागवत की बैठक भी होगी.

बड़ी खबर: संघ प्रमुख से मिलेंगे CM योगी, 1 साल के काम का देंगे हिसाब?योगी-संघ प्रमुख संग बैठक

संघ प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात करने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आगरा आ रहे हैं. वे आज दोपहर 12 बजे आरबीएस बिचपुरी पहुंचेंगे. निर्धारित कार्यक्रमों के बाद वे संघ प्रमुख के साथ बंद कमरे में मुलाकात करेंगे. दोपहर ढाई से साढ़े तीन बजे तक दोनों की बैठक प्रस्तावित है. इसमें उप्र में सरकार और संघ के समन्वय और आगामी लोकसभा चुनावों पर भी चिंतन हो सकता है.

योगी और भागवत की बैठक को संघ और बीजेपी नेता भले ही औपचारिक बता रहे हों, लेकिन सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी सरकार की अब तक की उपलब्धियों के बारे में बताएंगे. बता दें कि अगले महीने यूपी की योगी सरकार का एक साल पूरा हो रहा है. इसके अलावा माना जा रहा है कि वर्ष 2019 में प्रस्तावित चुनावों से लेकर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर भी चर्चा हो सकती है.

ब्रज-बुंदेलखंड क्षेत्र के स्वयंसेवकों की बैठक

ब्रज, बुंदेलखंड क्षेत्र के स्वयंसेवकों और बीजेपी नेताओं के साथ संवाद करने के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत आगरा में हैं. आगरा संघ का महत्वपूर्ण गढ़ माना जाता है. इन इलाकों से कुछ बीजेपी नेताओं को भी संघ प्रमुख की बैठक में बुलाया गया है.

वाराणसी से शुरू किया दौरा

बता दें कि भागवत यूपी के राजनीतिक मिजाज को समझने और वहां संघ की सक्रियता की थाह लेने में जुटे हैं. वो सूबे के तीन शहरों वाराणसी, आगरा और मेरठ में बड़ी बैठकें करने निकले हैं. संघ प्रमुख ने अपने दौरे का आगाज पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से किया है.16 फरवरी से पांच दिन तक वाराणसी में पूर्वांचल, अवध और काशी क्षेत्र के स्वयंसेवकों और बीजेपी नेताओं के साथ विचार-विमर्श करके उनके मूड को समझा.

44 हजार स्वयंसेवकों का समरसता संगम
संघ प्रमुख 24 फरवरी को सुनारी में होने वाले आरएसएस के समरसता संगम को संबोधित करेंगे. समरसता संगम के लिए 44 हजार स्वयंसेवकों का ऑनलाइन पंजीकरण हो चुका है. शुक्रवार शाम को संघ प्रमुख बाग फरजाना में चैरिटेबल पैथोलॉजी का उद्घाटन भी करेंगे. 24 को दोपहर 12 बजे से सुनारी में समरसता संगम का मार्गदर्शन करेंगे.

You may also like

बटुक भैरव देवालय में भादों का मेला 23 सितम्बर को

 अभिषेक के बाद होगा दर्शन का सिलसिला, नए