शौच के लिए गई लड़की की रेप के बाद कर दी हत्या, और फिर सबूत मिटाने के लिए कुएं से फेकी लाश

- in उत्तरप्रदेश, लखनऊ

महिलाओं के खिलाफ यौन शोषण को लेकर देशभर में हुए धरने-प्रदर्शनों और कानून को सख्त किए जाने के बावजूद रेप जैसी वारदातें रुकने का नाम नहीं ले रहीं. अब महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले से 18 साल की एक लड़की की रेप के बाद हत्या का मामला सामने आया है.

शौच के लिए गई लड़की की रेप के बाद कर दी हत्या, और फिर सबूत मिटाने के लिए कुएं से फेकी लाशइस मामले में पुलिस की लापरवाही भी सामने आ रही है. परिवारवालों का आरोप है कि पुलिस ने अकस्मात मौत कहकर FIR दर्ज करने से मना कर दिया है. वहीं परिवार वालों का कहना है कि उनकी बेटी का शव जिस हालत में मिला, उससे साफ अंदेशा है कि उसके साथ रेप हुआ है.

घटना नांदेड़ जिले के कंधार तहसील स्थित कुरुला गांव की है. पीड़िता के परिवार वालों के मुताबिक, बीते गुरुवार को उनकी बेटी दो अन्य लड़कियों के साथ शौच के लिए गई हुई थी. दोनों लड़कियां तो शौच के बाद घर लौट आईं, लेकिन उनकी बेटी नहीं लौटी.

दो दिन तक वे अपनी बेटी को खोजते रहे, लेकिन जब उसका कुछ पता नहीं चला तो पुलिस में उसकी गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवाई गई. हालांकि शिकायत दर्ज होने के बावजूद पुलिस ने उनकी लापता बेटी को खोजने की जहमत नहीं उठाई.

हारकर घरवालों ने ही फिर से अपनी बेटी की तलाश शुरू की. दो दिन खोजने के बाद नजदीक के ही इलाके से शनिवार को एक कुएं में उन्हें अपनी बेटी की लाश मिल गई. घरवालों ने बताया कि उनकी बेटी के कपड़े बुरी तरह फटे हुए थे.

फिर जब घरवालों ने पुलिस से रेप की शिकायत दर्ज करने की गुहार लगाई तो पुलिस ने उसे भी अनसुना कर दिया और रेप का केस दर्ज करने से इनकार कर दिया. पुलिस के रवैये से इलाके के लोगों में गुस्सा भड़क उठा.

घरवालों का आरोप है कि पुलिस इस मामले को रफा-दफा करने के चक्कर में है, जिसके चलते पुलिस पर ही शक की सुई घूम रही है. इसके बाद कंधार तहसील के भोई समाज के लोगों ने थाने पर विरोध प्रदर्शन किया और चेतावनी दी की जब तक गुनहगारों पर शिकंजा नहीं कसता, वे पीड़िता की लाश नहीं ले जाएंगे.

इसके बाद इलाके में हड़कंप सा माहौल रहा. पुलिस किसी तरह पीड़िता के घरवालों को पीड़िता के अंतिम संस्कार के लिए राजी करने में सफल रही. लेकिन पीड़िता के परिवार वाले अभी भी मांग कर रहे हैं कि पुलिस रेप केस दर्ज करे और आरोपियों का पता लगाए.

You may also like

‘नमोस्तुते माँ गोमती’ के जयघोष से गूंजा मनकामेश्वर उपवन घाट

विश्वकल्याण कामना के साथ की गई आदि माँ