शाहिद अफरीदी को इंडियन क्रिकेटर्स ने लताड़ा, जावेद अख़्तर ने उड़ाया मज़ाक

न्यूज डेस्क
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी बुरी तरह फंस गये हैं। गौतम गंभीर, युवराज सिंह, शिखर धवन, हरभजन सिंह ने अफरीदी को करारा जवाब देने के बाद अब जावेद अख्तर ने उनको फटकार लगाई है।
जावेद अख्‍तर ने ट्वीट कर कहा कि मैंने शाहिद अफरीदी के उपदेश को देखा। कितना मजेदार है कि उस आदमी के पास हमें ज्ञान देने का दुस्‍साहस है कि धर्म और राजनीति को मिक्‍स नहीं करना चाहिए। एक कहावत है कि दूसरे की आंख का तिनका देखने वाले खुद अपनी आंख का शहतीर नहीं देखते।
हमारा एक सवा लाख के बराबर
इससे पहले भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाज शिखर धवन ने भी उनको आंडे हाथों लिया था। उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि ‘इस वक्त जब पूरी दुनिया कोरोना से लड़ रही है उस समय भी तुमको कश्मीर सूझ रहा है। कश्मीर हमारा था, हमारा है और हमारा ही रहेगा। चाहे 22 करोड़ ले आओ हमारा एक सवा लाख के बराबर है। बाकी गिनती अपने आप कर लेना।’

वहीं, युवराज सिंह और हरभजन सिंह ने भी आफरीदी के बयान कड़ी आलोचना की थी। युवराज ने कहा था कि ‘आफरीदी के हमारे आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दिए गए बयान से बेहद निराश हूं। एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते जो भारत के लिए खेला हो, मैं इस तरह के शब्द स्वीकार नहीं कर सकता। मैंने आपके के कहने पर इंसानियत के नाते अपील की थी, लेकिन अब दोबारा नहीं।’

गौरतलब है कि हरभजन और युवराज ने हाल में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए शाहिद आफरीदी फाउंडेशन में दान देने की लोगों से अपील की थी। लेकिन आफरीदी के इस बयान के बाद दोनों ने नराजगी जताई है। हरभजन ने कहा कि वह अब पाकिस्तान खिलाड़ी से कोई संबंध नहीं रखना चाहेंगे।
हरभजन ने कहा कि, ‘ईमानदारी से कहूं तो उन्होंने (आफरीदी) हमें अपनी चैरिटी की मदद के लिए कहा। ऐसे में, हमने इसे मानवता के लिए और कोरोना वायरस के कारण पीड़ित लोगों के लिए मदद की थी।’

पढ़े ये भी : स्टेन का खुलासा : 200 से पहले आउट थे सचिन
पढ़े ये भी : …तो इस वजह से IPL हो सकता है
पढ़े ये भी : यहाँ तो घोड़े ने ही सवार की लगाम पकड़ ली है
उन्होंने आगे कहा, ‘ये एक बीमार आदमी है जो हमारे देश के बारे में इस तरह की सोच रखता है। मुझे बस इतना कहना है कि शाहिद आफरीदी से हमारा कोई लेना-देना नहीं है। आफरीदी को अपने देश पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए और अपनी सीमा में रहना चाहिए। हमारे देश के खिलाफ उसने जो भी बोला वो बर्दाश्त के बाहर है और मैं आज से उसके साथ सभी रिश्ते तोड़ता हूं।’
हरभजन ने कहा, ‘मैं इस देश में पैदा हुआ हूं और यहीं मरूंगा। मैं 20 साल से भी अधिक समय तक इस देश के लिए खेला हूं और इसके लिए मैच जीते हैं। किसी को भी मेरे देश के बारे में कुछ कहने का हक नहीं है।’

गंभीर ने याद दिलाया बांग्लादेश 
इससे पहले गंभीर ने ट्वीट कर कहा था कि, ‘पाकिस्तान के पास सात लाख की फोर्स है जिसका समर्थन 20 करोड़ लोग करते हैं। ऐसा कहना है ’16 साल के’ आफरीदी का। फिर भी कश्मीर के लिए 70 सालों से भीख मांग रहे हैं।
पढ़े ये भी :  तो इसलिए मधुमक्खी पालन को मिला वित्त मंत्री का साथ
गंभीर ने कहा कि आफरीदी, इमरान और बाजवा जैसे जोकर भारत और प्रधानमंत्री के खिलाफ जहर उगलते रहते हैं, लेकिन पाकिस्तान के लोगों के लिए कयामत के दिन तक कश्मीर नहीं ले सकते। बांग्लादेश याद है?’

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button