शादी की पहली रात ही कमरे में आए ससुर और नंदोई ने मुझे दबोचा और माँ ने भी

- in अपराध, राष्ट्रीय

शादी हमारे समाज का का सबसे ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण संस्‍कार माना जाता है वहीं लड़के व लड़कियों के मन में भी शादी को लेकर कई तरह के सपने होते हैं लेकिन कई बार शादी के बाद कुछ ऐसा हो जाता है जिसने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा। जी हां हाल ही में एक ऐसा ही मामला सामने आया जो कि एक लड़की के लिए काफी डरावना था। बात तब की है जब लड़की शादी करने के बाद अपने ससुराल विदा हुई वहां उसकी शादी की पहली रात थी लेकिन वहां उस नई नवेली दुल्हन के साथ कुछ ऐसा हुआ जिससे उसकी दुनिया ही तबाह हो गई। हैरानी तो इस बात की थी कि उसकी इस हालत की जिम्‍मेदार उसकी अपनी मां भी थी उसने भी उसे जीते जी ही मार दिया।

शादी की पहली रात ही कमरे में आए ससुर और नंदोई ने मुझे दबोचा और माँ ने भीबता दें कि ये घटना हरियाणा के सिरसा की है। जहां शादी के बाद घर आई दुल्हन ने चाचा ससुर के खिलाफ सुहागरात को ही दुष्कर्म करने और नंदोई के खिलाफ उसका मुंह दबाए रखने का आरोप लगाए हैं। जी हां दुल्हन की ससुराल में पहली रात कुछ ऐसी बीती कि वो पुलिस स्‍टेशन आने को मजबूर हो गई।

जब उसने पुलिस से शिकायत की तो नवविवाहिता की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने चाचा ससुर पालाराम पर दुष्कर्म और नंदोई महेंद्र सिंह के खिलाफ उसका साथ देने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। पीड़िता ने आपबीती सुनाते हुए मां को लेकर भी अपनी भड़ास निकाली।शादी की पहली रात नई नवेली दुल्हन के साथ ऐसा काम कर दिया कि उसकी दुनिया तबाह हो गई। अपनी मां ने भी उसे जीते जी ही मार दिया। घटना हरियाणा के सिरसा की है। क्षेत्र के एक गांव में दुल्हन ने चाचा ससुर के खिलाफ सुहागरात को ही दुष्कर्म करने और नंदोई के खिलाफ उसका मुंह दबाए रखने का आरोप लगाए हैं।

दुल्हन ने महिला थाने में शिकायत दी है। वहीं, नवविवाहिता की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने चाचा ससुर पालाराम पर दुष्कर्म और नंदोई महेंद्र सिंह के खिलाफ उसका साथ देने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। पीड़िता ने आपबीती सुनाते हुए मां को लेकर भी अपनी भड़ास निकाली।पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि उसकी शादी 12 मार्च को हुई थी जब वो अपने ससुराल विदा होकर पहुंची तो उस स रात उसके पति ने बहुत ज्यादा शराब पी रखी थी इसी वजह से उसके पति को कमरे तक छोड़ने उसके चाचा ससुर और नंदोई आए। लेकिन उनकी नियत सही नहीं थीं उन्‍होंने इस दौरान कमरे की लाइट बंद कर दी और ससुर व नंदोई दोनों ही कमरे के अंदर घुस गए। जब पिडि़ता ने शोर मचाया तो ननदोई ने उसका मुंह दबोच लिया और चाचा ससुर ने उससे दुष्कर्म किया।

जिसके बाद उसने अगले दिन बदनामी के डर से किसी से कुछ नहीं कहा। लेकिन जैसे ही वो अपने ससुराल से विदा होकर मायका आई तो उसने सारी बात अपनी मां को बताई। पिड़ि‍ता को उसकी मां ने भी रिश्तेदारी का मामला बताते हुए उसे चुप रहने को कहा। जब उसे कहीं भी साथ नहीं मिला तो उसने महिला हेल्प लाइन पर कॉल कर अपने बारे में बताया साथ ही उस रात की पूरी जानकारी दी। इसके बाद वह महिला थाना पहुंची और शिकायत दी।

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच