वीडियो: CM योगी की मुस्लिम विरोधी छवि को लेकर उनके पिता ने भेजी चौंका देने वाली नसीहत

उत्तर प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंने के बाद योगी आदित्यनाथ ने यूपी में अपनी हुकूमत की शुरुआत कर दी है| रविवार को योगी आदित्यनाथ ने अपने कैबिनेट मिनिस्टर्स के साथ जिस वक़्त लखनऊ में शपथ ली उस वक़्त लखनऊ से लगभग 600 किलोमीटर दूर पड़ोसी उत्तराखंड राज्य के गांव पंचूर में एक परिवार के सभी लोग टीवी स्क्रीन से चिपके बैठे थे|

वीडियो: योगी आदित्यनाथ की मुस्लिम विरोधी छवि को लेकर उनके पिता ने भेजी चौंका देने वाली नसीहत

अभी-अभी: देश की राजनीति में मचा तहलका, मोदी और अखिलेश करेंगे गठबंधन

इस परिवार को योगी आदित्यनाथ के सीएम पद पर बैठने की इतनी ख़ुशी थी कि टीवी पर टकटकी लगाये बैठा ये परिवार खाना तक खाना भूल चुका था| दरअसल ये परिवार था खुद शेर सी दहाड़ मारने वाले यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का| वर्ष 1972 में इसी गांव में अजय सिंह बिष्ट के रूप में योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था|

सीएम पद पर अपने भाई को बैठा देख योगी आदित्यनाथ की बहन शशि बताती हैं कि, “मैं खेतों में घास काटने गई थी, जब मुझे कॉल आया| मैंने सब कुछ छोड़ दिया और घर लौट आई| हमने सारा दिन टीवी देखा, और खुशी के मारे खाना तक नहीं बनाया| इस बात का पता भी तब चला, जब लोगों ने घर पर आना शुरू कर दिया, और हमें मिठाइयों का इंतज़ाम करना पड़ा|”

योगी आदित्यनाथ के बारे में बताते हुए शशि ने कहा कि, “मुझे ठीक से याद नहीं कि 22 साल की उम्र में गोरखपुर चले गए उनके भाई अजय कब आदित्यनाथ बने थे| मुझे बस इतना याद है, जब वह बच्चा था, वह पिता से कहा करता था, आप हमेशा इसी घर की चारदीवारी में रहे हो, लेकिन मैं समाज की सेवा करना चाहता हूं|”

भारत का सबसे बड़ा रेडलाइट एरिया, यहां 134 रु. में बिकती हैं लड़कियां!

सीएम योगी के परिवार के चेहरे पर बेटे की जीत की ख़ुशी साफ़ झलक रही थी| एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए सीएम योगी के पिता आनंद सिंह बिष्ट ने बताया कि ,“आज मैं बहुत खुश हूं| मुझे अपने बेटे पर गर्व है| बच्चे अपनी इच्छा से ही काम करें तो वही ठीक है|”

उन्होंने सीएम योगी के बारें में बताया कि, “योगी बचपन से ही प्रतिभाशाली थे और पढ़ाई में होशियार थे| साल 1993 में उन्होंने जनता की सेवा करने की ठान ली और गोरखपुर चले गए| शुरू में हमें लगा कि वह वहां नौकरी करने गए हैं| उन्होंने कहा योगी में महंत अवैद्यनाथ के लक्षण आ गए हैं|”

नसीहत देते हुए सीएम योगी के पिता ने अपने बेटे को कहा कि, “मैंने भी उसे समझाया कि सर्व सम्भाव रखो| अब तुम बड़े पद पर हो| क‍िसी से बुरा व्यवहार न करो| मुसलमानों से भेदभाव न करो|” 

लड़की बोली यहाँ मत मारो, अंदर चल कर करो जो कुछ…

जब सीएम योगी के पिता से उनके बेटे पर सांप्रदायिकता फैलाने के आरोप पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि, “मुंह से बोलने से कड़वाहट फैलती है, लेकिन अब वो सबको साथ लेकर चलेंगे| मैने उन्हें समझाया है कि आप भविष्य में किसी ऊंचे पद पर जाएंगे इसलिए लोगों के साथ संभाव रखें|”

देखें वीडियो: 

 
 
loading...
Loading...
Loading...
=>
loading...
=>

You may also like

उरी में भारतीय सेना पर हमले की कोशिश हुई नाकाम, मारे गए पाक की BAT के दो हमलावर

जम्मू और कश्मीर के उरी सेक्टर में पाकिस्तान