विज और महिला एसपी संगीता कालिया फिर आमने-सामने

- in हरियाणा

हरियाणा के स्‍वास्‍थ्‍य एवं खेल मंत्री अनिल विज और महिला एसपी संगीता कालिया एक बार फिर आमने-सामने हैं। संगीता कालिया पानीपत में तीसरी बार भी विज की अध्‍यक्षता में हुई कष्ट निवारण समिति की बैठक में नहीं पहुंची। बैठक से ठीक पहले वह एक दिन की अर्जेंट लीव पर चली गईं। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इस पर नाराजगी जताई और मुख्यमंत्री मनोहर लाल को शिकायत करने की बात कही है। दोनों के बीच विवाद काफी पुराना है। करीब ढ़ाई साल पहले फतेहबाद में विज अौर महिला एसपी के बीच विवाद हो गया था। यह विवाद काफी सुर्खियों में आ गया था और प्रदेश में राजनीतिक माहौल गरमा गया था।विज और महिला एसपी संगीता कालिया फिर आमने-सामने

तीन बार से नहीं आ रहीं बैठक में, फतेहाबाद में कुछ साल पहले हुआ था विज और एसपी में हुआ था

फतेहाबाद में नवंबर 2015 में कष्ट निवारण समिति की बैठक में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज और एसपी संगीता कालिया के बीच तू-तू, मैं-मैं हो गई थी।  मंत्री ने एसपी को गेटआउट कह दिया था। इस पर संगीता ने भी अनिल विज को उनके ही अंदाज में जवाब दे दिया था।

इसके बाद मामला गर्माने पर संगीता कालिया का तबादला कर दिया गया था। अब उनको पानीपत का एसपी बनाया गया है। यहां भी दाेनों का आमना-सामना हो गया। विज पानीपत के प्रभारी मंत्री हैं और इस कारण वह जिला कष्‍ट निवारण समिति की बैठक लेते हैं, संगीता बैठक मेें नहीं आ रही हैं। इसे दाेनों के बीच पुराने विवाद से जोड़ कर देखा जा रहा है।

स्वास्थ्य मंत्री बोले, मुख्यमंत्री से शिकायत करूंगा

शुक्रवार को भी जिला कष्‍ट निवारण समिति की बैठक थी। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज बैठक की अध्‍यक्षता कर रहे थे। इसमें आम लोगों की शिकायतें सुनीं जाती है। विज ने समिति की बैठक में आते ही मंच और सदन में बैठे अधिकारियों की तरफ नजरें दौड़ाई। मंच पर एसपी संगीता कालिया नहीं दिखाई दी तो उन्होंने एएसपी चंद्रमोहन से पूछ लिया आपकी एसपी कहा हैं? वह पिछली मीटिंग में भी नहीं थी। कोई सूचना भी नहीं दी। एसपी का मीटिंग में आना जरूरी नहीं है क्या?

विज ने शोंदापुर निवासी हैप्पी छाबड़ा की दो नंबर शिकायत में आरोपों को सुनते हुए एएसपी को कहा कि आपने धोखाधड़ी के मामले में जांच के दौरान मुकदमा तक कैंसिल कर दिया। अब फरियादी को कैसे न्याय दिया जाए? आप लोग ठीक से काम करते नहीं हो। आपकी एसपी मीटिंग में आती नहीं। आखिर मैं किससे कहूं?

एएसपी ने कहा- मैडम को जरूरी काम आ गया था

कष्‍ट निवारण समिति की बैठक के दौरान एसपी संगीता कालिया को फोन पर उनसे संपर्क करने की कई बार को‍शिश की गई, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। मंत्री विज के पूछने पर एएसपी चंद्रमोहन ने बताया कि मैडम को जरूरी काम आ गया था। वह एक दिन की अर्जेंट लीव पर गई हैं। बैठक में राज्‍य के परिवहन मंत्री कृष्‍णलाल पंवार भी मौजूद थे।

भाजपा महामंत्री बोले मंत्री की नहीं सुनते तो कार्यकर्ताओं की कहां सुनेंगी

एसपी के मीटिंग में नहीं आने के मुद्दा कार्यकर्ताओं और अधिकारियों की बैठक में भी उठा। इसमें भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के महामंत्री एडवोकेट गंगाराम स्वामी ने कहा कि मंत्री की मीटिंग में एसपी संगीता कालिया तीसरी बार नहीं पहुंचीं। जब अधिकारी मंत्रियों की अनदेखी कर रहे हैं तो कार्यकर्ताओं की कहां सुनवाई करेंगे। कार्यकर्ताओं ने उनका समर्थन किया।

ढ़ाई साल पहले ऐसे हुआ था विवाद

करीब ढ़ाई साल पहले 27 नवंबर 2015 को फतेहाबाद में कष्‍ट निवारण समिति की बैठक के दौरान स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज महिला पुलिस अधीक्षक संगीता कालिया पर सरेअाम बिफर पड़ेे थे। संगीता उस समय फतेहाबाद की एसपी थीं। मंत्री जी ने अपना रोब दिखाया तो संगीता ने भी उसी अंदाज में उनकी बात का विरोध किया।  इस दौरान उनके बीच तीखी कहासुनी हुई।

विज के गेट आउट कहने का एसपी ने किया थ विरोध, कहा- सरकारी अफसर हूं, नहीं जाऊंगी

बैठक की अध्यक्षता स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज कर रहे थे। बैठक में जन शिकायतों की सुनवाई हो रही थी।  विवाद बढ़ गया और इससे हंगामे की स्थिति पैदा हाे गई। दोनों में कहासुनी बढ़ी तो तैश में आए स्वास्थ्य मंत्री ने एसपी से कहा-गेट आउट कहते हुए बैठक से निकल जाने को कह दिया। इस पर एसपी ने जवाब दिया- सरकारी ऑफिसर हूं, यहां से नहीं जाऊंगी। इस बात पर भड़के अनिल विज बैठक से उठकर चले गए। बैठक से जाते हुए विज ने कहा, जब तक यह एसपी यहां हैं, मैं किसी बैठक में नहीं आऊंगा।

इसके बाद विवाद काफी बढ़ गया और पूरे प्रदेश में राजनीतिक माहौल गर्मा गया। विरोधी दलों ने अनिल विज को निशाने पर ले लिया। विवाद के अगले ही दिन 28 नवंबर 2015 को संगीता कालिया का फतेहाबाद से तबादला कर दिया गया। संगीता कालिया को मानेसर स्थित चौथी आईआरबी का कमांडेंट बना दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

फिर चक्का जाम पर उतरे हरियाणा रोडवेज कर्मचारी, 16 से हड़ताल

किलोमीटर स्कीम के तहत परिवहन बेड़े में 720