लोकतंत्र में प्रश्न पूछना नेताओं का मौलिक अधिकार: अखिलेश

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार सुबह ट्वीट कर कहा कि हमारे सशस्त्र बलों के बलिदान पर सवाल नहीं उठने चाहिए। लोकतंत्र में प्रश्न पूछना नेताओं का मौलिक अधिकार है। इस सरकार को सेना की तरह दिखने का नाटक बंद कर देना चाहिये। राजनेता जो कहते हैं कि उनसे सवाल नहीं किया जा सकता, यह खतरनाक है। इससे पहले गुरुवार को सैफई में सपा के प्रमुख महासचिव राम गोपाल यादव पुलवामा में हुए आतंकी हमले पर विवादित बयान दिया था। अखिलेश का ये ट्वीट अहम माना जा रहा है।
राम गोपाल ने कहा था कि ‘पैरामिलिट्री फोर्सेज सरकार से दुखी है। वोट के लिए जवान मार दिए गए। जम्मू-श्रीनगर के बीच में चेकिंग नहीं थी। साधारण बसों से जवानों को भेज दिया गया। यह साजिश थी। इस पर अभी नहीं कहना चाहता, जब सरकार बदलेगी तो इसकी जांच होगी और बड़े-बड़े लोग फंसेंगे।’

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button