लॉकडाउन : BJP के इस नेता को गरीबों के दर्द से नहीं है कोई सरोकार

स्पेशल डेस्क
कोरोना वायरस को रोकने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है। ऐसे में पीएम की घोषणा के बाद से ही लोगों ने जरूरी सामानों को अपने घरों में लाकर रख लिया है। लॉकडाउन का पालन करते हुए लोगों ने अपने घरों में रहना पसंद कर रहे हैं। दूसरी ओर काम बंद होने की वजह से मजदूर को काफी परेशानी होनी पड़ रही है। इस वजह से मजदूर वर्ग अपने घर लौट रहा है।
कई मजदूर काम बंद होने और खाने की कमी से जूझ रहे हैं। इसके साथ ही वो अपने घर लौटने के लिए पैदल ही निकल पड़े हैं लेकिन कुछ नेताओं को इनकी परेशानी नजर नहीं आ रही है और मजदूर वर्ग का मजाक बनाने से भी नहीं चूक रहे हैं।

बीजेपी के जाने-माने नेता बलबीर पुंज ने बेहद शर्मानाक बयान दिया है। उन्होंने इन मजदूरों को लेकर ट्वीटर पर लिखा है कि खानाबदोश मजदूर दिल्ली छोडक़र क्यों जा रहे हैं? पैसों की चाहत या खाने की? नहीं। यह लापरवाही है। घर पर नौकरी या पैसा उनका इंतजार नहीं कर रहा है। इसके (लॉकडाउन) जरिए वे जबरदस्ती मिली ‘छुट्टी’ का इस्तेमाल अपने परिवारों से मिलने या घर पर बाकी पड़े कामों को पूरा करने के लिए कर रहे हैं. हालात की गंभीरता से उन्हें कोई लेना-देना नहीं।

Why migrants leaving Delhi ? For want of money or food ? NO. Just irresponsible. There is no money/ jobs waiting for them back home. It’s to utilise their forced ‘chutti’ to catch up with their families or errands back home. Gravity of situation hasn’t dawned on them.@Si_lv_er
— Balbir Punj (@balbirpunj) March 27, 2020

उधर उनकी पार्टी के नेता तरुण विजय ने पुंज के बयान पर नाइत्तफाकी जतायी है। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा है कि दर्द और तकलीफ के समय आदमी अपनों की चिंता करता है। कोई भी उन्हें खाना या शरण देने नहीं गया और किसी ने उन्हें समझाया भी नहीं। हमारे होठों पर दर्द और दुख में पहला नाम मां, बहन और बच्चों का ही आता है।

No no no. In times of pain and suffering they feel for their near and dear ones. None went to them to explain and provide shelter, food. The first name in times of fear and Dukh comes on our lips is name of mother,sister,kids.This pull makes them come on roads to rush back Home.
— Tarun Vijay தருண் விஜய் (@Tarunvijay) March 28, 2020

आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता आशुतोष पुंज को करारा जवाब दिया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा है कि बलबीर पुंज बीजेपी/संघ के सदस्य हैं. सरकार विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिये विशेष विमान भेजती है। देश के गऱीबों को ये ग़ैरज़िम्मेदार बताते हैं। बीजेपी सरकारें इन गऱीबों के लिये विशेष विमान क्यों नहीं भेजती! ये विचारधारा की मानसिकता है। दो बार सांसद बलबीर पुंज के इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर बहस देखने को मिल रही है। इसके बावजूद बलबीर पुंज अपने बयान पर कायम है।

बलबीर पुंज बीजेपी/संघ के सदस्य हैं।सरकार विदेशों में फँसे भारतीयों को लाने के लिये विशेष विमान भेजती है। देश के ग़रीबों को ये ग़ैरज़िम्मेदार बताते हैं। बीजेपी सरकारें इन ग़रीबों के लिये विशेष विमान क्यों नहीं भेजती! ये विचारधारा की मानसिकता है। @balbirpunj @ajitanjum @INCIndia https://t.co/OKQakMCpSm
— ashutosh (@ashutosh83B) March 28, 2020

अफसोस है सर कि आप बीजेपी नेता के अलावा संपादक/पत्रकार और इंसान होते हुए भी ऐसी बात कर रहे हैं . सैकड़ों दिहाड़ी मजदूरों से मैंने बात की है .रिक्शा वाला से लेकर ठेले वाला और निर्माण मजदूर तक.इन्हें किसने Leave with Pay दिया है?इतने असंवेदनशील मत बनिए सरएक बार सुनिए तो इन्हें https://t.co/mwwAo62oIT pic.twitter.com/YXVRjh3Au0
— Ajit Anjum (@ajitanjum) March 28, 2020

कुल मिलाकर पूरे देश में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ रहा है। भारत में अब तक कोरोना वायरस से 820 लोगों के इसकी चपेट में है जबकि 20 लोगों की जान जा चुकी है। दूसरी ओर नेताओं के इस तरह से बयान से लोगों में काफी गुस्सा रहता है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button