लॉकडाउन: पुलिस ने ‘फर्जी दूधिया’ घूमते को पकड़ा, 494 लोगों पर केस दर्ज

गाजियाबाद: गाजियाबाद की विजयनगर थाना पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान प्रताप विहार के पास से एक युवक को हिरासत में लिया है। यह युवक बाइक पर दुधिया बनकर घूम रहा था। गाजियाबाद पुलिस ने आरोपी युवक की बाइक सीज करते हुए उसे हिरासत में ले लिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि संदेह होने पर युवक को रोक कर उसके दूध के गैलन को चेक किया गया। बाइक पर दो गैलन टंगे थे, लेकिन दोनों खाली थे। फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।
कोरोना के खिलाफ लड़ाई में भले ही पुलिस और प्रशासन ने लोगों को सड़क पर निकलने पर रोक लगा दी है, लेकिन बड़ी संख्या में लोग मानने को तैयार नहीं हैं। मंगलवार को लगातार दूसरे दिन सुबह सुबह बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर निकले। शुरुआत में पुलिस ने समझाने का प्रयास किया, लोगों को विनम्रता से घर लौट जाने का आग्रह किया। बताया कि यह लॉकडाउन आम आदमी की सुरक्षा के लिए है, कोरोना को रोकने के लिए है। गाजियाबाद के यूपी गेट, मोदीनगर, लोनी व मसूरी थाना क्षेत्रों में पुलिस अपनी गाड़ियों में लगे पीए सिस्टम से लगातार संदेश दे रही है। बावजूद इसके लोग शॉर्टकट रास्ते से निकलने का प्रयास करते देखे गए।
पुलिस अधिकारियों का कहना है कि निर्देशों का उल्लंघन करने पर अब मुकदमे दर्ज करने डंडे फटकारने की अनुमति दे दी गई है। कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए देशभर के कई राज्यों समेत उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में घोषित किए गए लॉकडाउन के मद्देनजर मंगलवार को दूसरे दिन भी गाजियाबाद पुलिस ने जिले की सीमाओं पर सख्ती दिखाई। पुलिस ने केवल उन्हीं वाहनों को आगे जाने दिया, जिन्हें पास जारी किया गया हो या फिर उनके जाने की वजह आवश्यक प्रतीत हुई हो।
हालांकि, सुबह के वक्त पुलिस ने थोड़ी ढील दी थी। इससे बड़ी संख्या में वाहन फर्राटा भरकर निकलने लगे। हालात को देखते हुए करीब साढ़े सात बजे पुलिस ने बैरिकेडिंग फिर से लगा दी। यूपी गेट पर तैनात ट्रैफिक इंस्पेक्टर बीपी गुप्ता ने बताया कि दिल्ली से आने वाले हरेक वाहन को रोककर गाजियाबाद में घुसने की वजह पूछी जा रही है। बहुत जरूरी होने पर ही उन्हें सीमा पार करने की अनुमति दी जा रही है। उन्होंने बताया कि इस दौरान प्रतिरोध करने वाले वाहन चालकों के खिलाफ चालान और सीज की भी कार्रवाई की जा रही है।

Loading...
loading...
Loading...