रूस ने सीरिया में आतंकी संगठन ISIS पर शुरू किए हवाई हमले

russiaनई दिल्ली( 1 अक्टूबर):सीरिया में पहली बार रूस के फाइटर जेट ने बम बरसाए हैं। रूसी विमानों के हमलों में 32 लोगों के मारे जाने की खबर है। सीरिया पिछले 4 साल से जंग से परेशान है लेकिन अब सीरिया के मसले पर आमने सामने हैं अमेरिका और रूस।

रूसी सुखोई जहाजों से बरसते बम सीरिया में जम कर कहर बरपा रहे हैं। रूस का दावा है कि हमले आईएसआईएस के आतंकी ठिकानों को निशाना बनाकर किए जा रहे हैं। रूसी जेट विमानों के हमले में अब तक 32 नागरिक मारे गए हैं।

रूसी हमलों का विरोध करने वालों का दावा है कि ये हमले आईएसआईएस के खिलाफ ना होकर , सीरिया की असद सरकार के विरोध में खड़े धड़े के खिलाफ है । रूसी विमानों के सीरिया के होम्स शहर पर किए गए हमले की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है ।

सीरियाई प्रेसिडेंट बशर अल असद की सरकार को रूस के खुले समर्थन की खबरें भी मीडिया में अक्सर देखने को मिलती है। यही वजह है कि कई लोग तो इस रूसी हमलों को सीरिया की असद सरकार को बचाने की कार्रवाई के तौर पर भी देख रहे हैं ।

खबरों के मुताबिक सीरिया में रूसी कार्रवाई के बाद, एक बार फिर अमेरिका और रूस के रिश्तों में तल्खी दिखाई दे रही है। दोनो देश आमने सामने हैं। बताया जा रहा है कि रूसी जेट विमानो ने बमबारी के लिए सीरिया की सरहद लांघने से पहले, अमेरिका जंगी जहाजों के इलाके से हटने के लिए महज 1 घंटे का वक्त दिया।

सीरिया पर हमले से पहले रूस की पार्लियामेंट ने एक प्रस्ताव पास कर, प्रेसिडेंट व्लादिमीर पुतिन को बमबारी की इजाजत दी थी। साफ है बीते 4 सालों से जंग का मैदान बना सीरिया , अब दो महाशक्तियों के बीच, तनाव की वजह बनता जा रहा ह।

 
 
 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button