रामविलास पासवान का बड़ा बयान, कहा- नीतीश कुमार राजग के साथ हैं और रहेंगे

जदयू नेता और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कांग्रेस के हाथ मिलाने की अटकलों को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने बृहस्पतिवार को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि राजग के घटक दल उसके साथ मजबूती से खड़े हैं, जिनमें से एक नीतीश कुमार हैं। जेल में बंद लालू यादव से उनकी बातचीत तबीयत की जानकारी लेने तक सीमित थी। अगर कोई इस पर कोई बयान दे रहा है या तूल दे रहा है तो वह पूरी तरह से निराधार और गलत है।  रामविलास पासवान का बड़ा बयान, कहा- नीतीश कुमार राजग के साथ हैं और रहेंगे

पासवान ने बिहार में सीटों के बंटवारे पर कहा कि फिलहाल यह कोई मुद्दा नहीं है, क्योंकि इस पर चुनाव से पहले पक्षों की सहमति से निर्णय लिया जाता है। बिहार के मुख्यमंत्री से बातचीत का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि नीतीश ने मुझे बताया कि उन्होंने एक नहीं, बल्कि चार बार लालू यादव का हालचाल लिया। लालू जेल में बंद हैं और लंबे समय तक राजनीति में सक्रिय रहे हैं। ऐसे में उनके ऑपरेशन के बाद तबीयत के बारे में पूछना मानवता है। कोई राजनीतिक फेरबदल नहीं है।

पासवान ने कहा कि ऐसा नहीं है कि किसी नेता ने दूसरे नेता का हालचाल लेने के लिए फोन किया हो। राजनीतिक और निजी जीवन का घालमेल कर उसे तूल दिया जाना उचित नहीं है। उन्होंने स्पष्ट किया कि राजग के सभी घटक दल उसके साथ हैं और 2019 में सब मिलकर चुनाव लड़कर फिर सरकार बनाएंगे।  

लोजपा नेता पासवान ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि अगर कोई यह बयान दे रहा है कि फोन पर बातचीत विपक्षी दल के साथ जाने के मद्देनजर थी तो यह पूरी तरह से गलत और भ्रम फैलाने वाली है। इससे उसे कोई फायदा नहीं मिलने वाला है, यह महज बचकानी हरकत है। हम सब एक नाव पर सवार हैं, साथ हैं और आगे बढ़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मीडिया को राजनीतिक और निजी जीवन में अंतर को ध्यान में रखना चाहिए। गौरतलब है कि यह पूरा मसला नीतीश कुमार की एक फोन कॉल के बाद शुरू हुआ। उन्होंने मंगलवार को मुंबई में इलाजरत राजद सुप्रीमो और पुराने दोस्त व वर्तमान प्रतिद्वंद्वी लालू प्रसाद यादव को फोन कर उनका हालचाल पूछा था। इसके बाद से ही बिहार में नई राजनीतिक चर्चाओं का दौर फिर से शुरू हो गया है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ऐसे भारत से भागा था विजय माल्या: CBI ने किया खुलासा..

  सूत्रों ने कहा कि पहले सर्कुलर में