राफेल लड़ाकू विमान वायुसेना में विधिवत शामिल

अंबाला 10 सितम्बर।राफेल लड़ाकू विमान को आज यहां वायुसेना केन्द्र में आयोजित एक समारोह में विधिवत भारतीय सेना में शामिल कर लिया गया।इसके लिए विशेष रूप से आयोजित समारोह में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और फ्रांस की रक्षामंत्री फ्लोरेंस पार्ली भी उपस्थित थी।
रक्षामंत्री श्री सिंह ने इस अवसर पर कहा कि इन विमानों को भारतीय वायु सेना में शामिल किया जाना एक अत्यंत महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक क्षण है।उन्होंने कहा कि रफाल विमानों की खरीद के फैसले ने हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा की दिशा ही बदल दी।उन्होने कहा कि..फ्रांस के साथ राफेल डील भारत की नेशनल सिक्यूरिटी में एक गेम चेंजर है।इसका लांग रेंज ऑपरेशन अपने वजन के बराबर अर्मामेंट और एडिशनल सेल्फ कैरी करने की कैपेसिटी, 60 लैंडिंगग्राउंड से ऑपरेट करने की एबिलिटी, हाई स्पीड जैसी खूबियां इसे दुनिया के बेस्ट एयरक्राफ्ट में से एक बनाती हैं..।
श्री सिंह ने देश की सम्प्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के मुद्दे पर कोई भी समझौता न करने का संकल्प दोहराया। उन्होंने यह भी कहा कि सेनाओं को सुदृढ़ करने का उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय शांति और स्थिरता बनाए रखना है। रक्षामंत्री ने कहा कि भारत ऐसा कोई भी कदम नहीं उठाना चाहता जिससे अंतरराष्ट्रीय शांति खतरे में पड़े।
श्री सिंह ने कहा कि रफाल को भारतीय वायुसेना में शामिल किया जाना भारत और फ्रांस के बीच घनिष्ठ सामरिक सम्बंधों को भी दर्शाता है। दोनों देशों ने कई क्षेत्रों में सहयोग के जरिए रक्षा साझेदारी बढ़ायी है। टेक्नोलॉजी हस्तांतरण के समझौते के तहत मजगांव गोदी में छह स्कॉर्पेना पंडुब्बियां बनाई जा रही हैं। इस साझेदारी के तहत पहली पंनडुब्बी आईएनएस- कावेरी का 2017 में जलावतरण किया जा चुका है।
 

Loading...
loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...