राजस्थान में तीसरा विकल्प बनने की तैयारी में जुटी बसपा

जयपुर। बहुजन समाज पार्टी ने राजस्थान की सभी 200 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की रणनीति बनाई है । कांग्रेस और भाजपा के खिलाफ राजस्थान में तीसरा विकल्प बनने की तैयारी में जुटी बसपा ने विधानसभा क्षेत्रवार भाईचारा कमेटियां गठित कर कार्यकर्ताओं को सक्रिय करना शुरू कर दिया है।राजस्थान में तीसरा विकल्प बनने की तैयारी में जुटी बसपा

बसपा ने प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में जातिगत समीकरणों को ध्यान में रखते हुए जनाधार वाले नेताओं की सूची तैयार करना शुरू किया है। बसपा के प्रदेश प्रभारी धर्मवीर अशोक का कहना है कि सभी 200 सीटों पर प्रत्याशी चयन के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं से फीडैक लिया जा रहा है।

कार्यकर्ताओं से फीडबैक लेने के बाद संभावित उम्मीदवारों का पैनल पार्टी अध्यक्ष मायावती को भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि पार्टी के दो वर्तमान विधायकों मनोज न्यागली और पूरणमल सैनी को फिर से टिकट दिया जाएगा। मनोज न्यागली वर्तमान से राजगढ़ और पूरणमल सैनी खेतड़ी विधानसभा सीट से विधायक है। दोनों विधायकों को चुनाव की तैयारी में जुटने के लिए कहा गया है। उन्होंने बताया कि पिछले एक माह से जिलों में कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किए जा रहे हैं।

कार्यकर्ता सम्मेलन के साथ ही संगठन में नये लोगों को पार्टी से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य में बसपा लोगों के सामने मजबूत तीसरा विकल्प बनेगी। इधर बसपा विधायक मनोज न्यागली ने कहा कि बसपा में युवाओं को जोड़ने के लिए रणनीति बनाई गई है। वे स्वयं युवा मतदाताओं को पार्टी से जोड़ने के काम को देख रहे हैं। उन्होने दावा किया कि बसपा राजस्थान के लोगों के लिए तीसरा विकल्प बनेगी।

उन्होंने खुद के कांग्रेस में शामिल होने की बात को नकारते हुए कहा कि वे बसपा में ही रहेंगे और मायावती के नेतृत्व में चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि सामाजिक कार्यक्रमों अथवा विधानसभा में अन्य दलों के नेताओं के साथ मुलाकात का अर्थ यह नहीं है कि वे किसी अन्य दल में शामिल हो रहे हैं। 

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों