ये हैं हनुमानजी को प्रसन्न करने के 5 उपाय

lordji_23_05_2016कलियुग में हनुमानजी एक मात्र देव हैं जो साक्षात् मौजूद हैं। वह हर उस जगह जहां रामकथा यानी रामायण का गायन होता वहां श्रवण करने के लिए मौजूद रहते हैं। यदि आप हनुमानजी की कृपा हमेशा के लिए पाना चाहते हैं तो श्रीराम की आराधना भी करनी होगी।

इसके अलावा कुछ उपाय हिंदू धर्मग्रंथों में मिलते हैं, जिनको आजमाने से हनुमानजी जरूर प्रसन्न होते हैं। लेकिन यह उपाय आपको पूरी श्रद्धा, आस्था और विश्वास के साथ आजमाना चाहिए।

  • माह में प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को हनुमानचालीसा का पाठ करना चाहिए।
  • हनुमानजी को हर मंगलवार या शनिवार सिंदूर और चमेली का तेल अर्पित करना चाहिए।
  • मंगलवार या शनिवार के दिन हनुमानजी को बना हुआ बनारसी पान अर्पित करना चाहिए। बनारसी पत्ते का बना हुआ पान अर्पित करने से भी हनुमानजी की कृपा प्राप्त होती है।
  • मंगलवार के दिन मंदिर जाकर हनुमानजी के बाएं पैर एवं बाएं कंधे का सिंदूर लेकर आएं। अब इस सिंदूर से घर या ऑफिस के मुख्य द्वार के बाहर ऊपर की तरफ श्रीराम लिख दें। ऐसा करने से आपके घर या ऑफिस पर लगी बुरी नजर का असर समाप्त हो जाएगा और हनुमानजी स्वयं उसकी रक्षा करेंगे।
  • सवा किलो उड़द की दाल और ढाई सौ ग्राम काली तिल को मिलाकर आटा पीस लें। अब प्रति मंगलवार इस आटे को गूंथकर दीपक बनाएं और 11 मंगलवार तक बढ़ते हुए क्रम में हनुमानजी को अर्पित करें, जैसे पहले दिन एक दीपक, दूसरे दिन दो, तीसरे दिन तीन दीपक लगाएं। इसी तरह 11 दिनों तक 11 दीपक लगाएं। लेकिन ध्यान रहे कि यह दीपक सरसों के तेल में ही लगाए गए हों। जब 11 दिन पूरे हो जाएं तो घटते क्रम में दीपक लगाना शुरू कर दें। इस उपाय को करने से आपकी हर समस्या से आप छुटकारा पा सकते हैं। चाहे फिर कर्ज मुक्ति हो, घर या व्यापार की समस्या या फिर अन्य समस्या के शीघ्र ही आपको शुभ परिणाम प्राप्त होंगे।
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button