यूपी सरकार ने लाॅकडाउन के दौरान बढाई सख्ती, 228 के खिलाफ मामला दर्ज

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने राजधानी लखनऊ सहित लाॅकडाउन किए गए जिलों में लाेगों को स्थिति में सहयोग करने की अपील करते हुये मंगलवार से पुलिस प्रसाशन ने सख्ती बरते हुए सड़कों पर आने जाने वालों को वापस भेज रही है। सरकारी सूत्रों के अनुसार सोमवार को लॉकडावन के दौरान नियमों का उलंघन करने वालों के खिलाफ 228 मामले दर्ज किए गए है। मीडियाकर्मी एवं आवश्यक सेवाओं के लिए अपनी ड्यूटी को अंजाम देने के लिए आने-जाने वालों के लिए जिला अधिकारी कार्यालय से पास जारी किए जाएगें।
अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने मंगलवार को यहां बताया कि लाॅकडाउन की स्थिति में सहयोग न करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने लोगों से इस वैश्विक महामारी कोविड 19 से निपटने में सहयोग की अपील करते हुये कहा कि अपने घरों में रहे और नियमों का पालन करें। उन्होंने कहा कि कोविड-19 (कोरोना) के संक्रमण के मद्देनजर लाॅकडाउन किये गये 16 जिलों में 10754 वाहनों के चालान,645 वाहन सीज तथा 22,85,651 रूपये का जुर्माना तथा 228 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किये गये है।
अपर मुख्य सचिव ने बताया कि राज्य में लाॅकडाउन वाले जिलों के आगरा में 1732 वाहन चेक किये गये जिसमें 166 वाहनों का चालान कर 109000 रूपये का जुर्माना किया गया। अलीगढ़ में 2245 वाहनों को चेक कर 1950 वाहन का चालान किया गया तथा तीन मामले दर्ज किये गये है। गाजियाबाद में 4000 वाहनों को चेक कर 1441 वाहनों का चालान व 70 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किये गये, मेरठ में 1560 वाहनों को चेक कर 176 वाहनों का चालान तथा 22 लोगों के खिलाफ मामले पंजीकृत किये गये है। इसी प्रकार सहारनपुर में 2761 वाहनों की चेकिंग कर 1552 वाहनों का चालान, 243 वाहन सीज एवं 18,42,500 रूपये का जुर्माना साथ ही एवं 16 मामले पंजीकृत किये गये है। मुरादाबाद में 2943 वाहनों को चेक कर 1393 वाहनों के चालान व पांच वाहन सीज किये गये।
उन्होंने बताया कि बरेली में 947 वाहनों को चेक कर 512 वाहनों का चालान व 21,000 रू जुर्माना तथा चार मामले पंजीकृत किये गये है। पीलीभीत में 271 वाहनों को चेक कर 2,21,801 रूपये का जुर्माना व एक अभियोग पंजीकृत किया गया। खीरी में 200 वाहनों को चेक कर 2000 रूपये का जुर्माना, कानपुर नगर में 852 वाहनों को चेक कर 35000 रूपये का जुर्माना एवं 22 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किये गये है।
अवस्थी ने बताया कि प्रयागराज में 4994 वाहनों को चेक कर 592 वाहनों का चालान किया एवं 18600 रूपये जुर्माना व आठ मामले दर्ज किये गये है। आजमगढ़ में 400 वाहनों को चेक कर 286 वाहन सीज व 18450 रूपये का जुर्माना, वाराणसी में 1290 वाहनों को चेक कर 1186 वाहन के चालान, 68 वाहन सीज व 17300 रूपये जुर्माना तथा 11 मामले दर्ज किये गये है। गोरखपुर में 879 वाहनों को चेक कर 429 वाहनों का चालान किया गया एवं चार मामले दर्ज किये गये है। गौतमबुद्धनगर में 1995 वाहनों को चेक कर 11 मामले दर्ज गये। लखनऊ में 1388 वाहनों को चेक कर 1345 वाहनों का चालान कर 43 वाहन सीज किये गये साथ ही 56 मामले दर्ज किये गये है।

Loading...
loading...
Loading...