यूपी पंचायत चुनाव: राज्य चुनाव आयोग के नए आदेश से चुनाव टलने के संकेत!

यूपी में त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर असमंजस बना हुआ है। ग्राम प्रधानों का कार्यकाल इस साल 25 दिसम्बर को खत्म होने को है और उससे पहले ग्राम पंचायतों के चुनाव हो जाने चाहिएं। इसके लिए जरूरी है कि नवम्बर में चुनाव की अधिसूचना जारी हो और उससे पहले शहरी क्षेत्र में शामिल हो चुकी पंचायतों के बाद बाकी बचे क्षेत्र का परिसीमन, वोटर लिस्ट का पुनरीक्षण आदि पूरा होना है, जिसके लिए दो से तीन महीने का समय चाहिए।

मतदाता सूची के विस्तृत पुनर्निरीक्षण के आदेश को रद्द किया।1 बुधवार 19 अगस्त को अपर निवार्चन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा ने सभी जिला अधिकारियों को एक पत्र जारी किया। जिसमें कहा गया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए वोटर लिस्ट के पुनरीक्षण  का कार्य पहली सितम्बर से शुरू करने पर आयोग विचार कर रहा है, इसलिए पंचायतों की वोटर लिस्ट के वृहद पुनरीक्षण के लिए शुरुआती प्रबंध करवाए जाएं। मगर आयोग ने उसी दिन यह पत्र वापस भी ले लिया। अब आयोग ने सफाई दी है कि 19 अगस्त का ऑर्डर भूलवश जारी हुआ था। 25 दिसंबर को मौजूदा पंचायत का कार्यकाल खत्म हो रहा है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button