यूपी जीत के बाद अब इस राजनीतिक दंगल का आगाज करेंगे अमित शाह, देंगे जीतने का मंत्र

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को रामलीला मैदान में तीनों नगर निगम के चुनाव के लिए प्रचार का शंखनाद करेंगे। उनके साथ पार्टी के कई राष्ट्रीय नेता भी कार्यकर्ताओं को चुनाव जीतने का मंत्र देंगे।प्रदेश भाजपा ने नगर निगम चुनाव की तैयारी के सिलसिले में शनिवार को रामलीला मैदान में बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया है। सम्मेलन को पंचपरमेश्वर की उपमा दी है।प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने शनिवार को रामलीला मैदान में संवाददाता सम्मेलन में बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह पहला अवसर है, जब पार्टी के सबसे उच्च पद पर बैठे नेता पार्टी के सबसे छोटे पद वाले नेताओं से रूबरू होंगे।

यह आयोजन अंतिम पंक्ति में बैठे कार्यकर्ता को खुशहाल करने के लिए किया गया है। सम्मेलन में दिल्ली के 13 हजार से अधिक बूथ से पांच-पांच कार्यकर्ता शिरकत करेंगे। उनके कुछ सवाल पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के समक्ष रखे जाएंगे, जिनका वे सिलसिलेवार जवाब देेंगे।सम्मेलन में पार्टी के अन्य कार्यकर्ता और मंडल, जिला और प्रदेश स्तर के पदाधिकारी भी शामिल होंगे। भाजपा ने सम्मेलन में करीब 65 हजार बूथ कार्यकर्ता आनेे का दावा किया है, लेकिन रामलीला मैदान में करीब 25 हजार कुर्सी लगवाई है।मनोज तिवारी ने बताया कि मैदान को भाजपा के 14 संगठनात्मक जिलों के अनुसार 14 बाड़ों में बांटा गया है। प्रत्येक बाड़े में एलईडी स्क्रीन लगाई गई है। इस मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे, प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, सहप्रभारी तरूण चुघ आदि भी मौजूद थे।

तिवारी का कटाक्ष, केजरीवाल ने रामलीला मैदान से धोखा किया

मनोज तिवारी इस मौके पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी कटाक्ष करने से नहीं चूके। उन्होंने कहा कि रामलीला मैदान व्यवस्था परिवर्तन का प्रतीक है। यहां से अनेक नेताओं ने सरकारें पलटने का बिगूल फूंका है।मगर कुछ लोगों ने रामलीला मैदान से धोखा देने का कार्य किया, जिनमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शामिल हैं। उन्होंने रामलीला मैदान में लोगों को धोखे से जुटा कर दिल्ली की सत्ता हासिल कर ली। इतना ही नहीं, उन्होंने सत्ता में आने के लिए लोगों को गुमराह भी किया।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button