यूनिवर्सिटी में कार्यक्रम को लेकर राजनीतिक घमासान, हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष हिरासत में

- in राजस्थान, राज्य

रेवाड़ी । मीरपुर स्थित इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने आए हरियाणा के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर और राष्ट्रीय सचिव चिरंजीव राव को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। हरियाणा पुलिस डॉ. अशोक तंवर और उनके समर्थकों को हिरासत में लेकर बस से ले गई है। वह विश्वविद्यालय में युवा मंत्रणा कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। उनके साथ काफी संख्या में समर्थकों की भी भीड़ थी।यूनिवर्सिटी में कार्यक्रम को लेकर राजनीतिक घमासान, हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष हिरासत में

हिरासत में लिए जाने के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि यह विश्वविद्यालय प्रशासन की तानाशाही है। डॉ. अशोक तंवर की गिरफ्तारी के बाद उनके समर्थकों ने विश्वविद्यालय प्रशासन, हरियाणा सरकार और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। विश्वविद्यालय में होने वाले इस कार्यक्रम की शिकायत एबीवीपी ने की थी। छात्र संगठन एबीवीपी इस कार्यक्रम का विरोध कर रहा था। एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम होने पर अशोक तंवर को काले झंडे दिखाने की चेतावनी दी थी।

मालूम हो कि विश्वविद्यालय में दो अगस्त को आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम को लेकर काफी दिनों से राजनीती चल रही थी। एबीवीपी द्वारा शिकायत की जानकारी मिलने पर कांग्रेस ने कार्यक्रम का नाम बदलकर युवा मंत्रणा रख दिया था, ताकि विवाद को खत्म किया जा सके। बावजूद एबीवीपी पदाधिकारी कार्यक्रम न आयोजित होने पर अड़े रहे। एबीवीपी जिला प्रधान पंकज राव और छात्र नेता नवीन कौशिक का कहना था कि नाम बदलने से कुछ नहीं होता। यह एक राजनीतिक कार्यक्रम है।

विश्वविद्यालय प्रशासन ने कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी थी। साथ ही विश्वविद्यालय ने नोटिस जारी किया था यूनिवर्सिटी परिसर में किसी तरह का राजनीतिक कार्यक्रम नहीं होने दिया जाएगा। खास बात ये है कि कार्यक्रम का आयोजन विश्वविद्यालय के ही सहायक प्रोफेसर बलकार सिंह ने किया था। हालांकि विश्वविद्यालय प्रशासन पहले ही उन्हें एक मामले में निलंबित कर चुकी है।

बृहस्पतिवार को कार्यक्रम शुरू होने से पहले ही यूनिवर्सिटी में हाईवोल्टेज राजनीतिक ड्रामा शुरू हो गया था। हंगामे की आशंका को देखते हुए विश्वविद्यालय में सुबह से ही भारी मात्रा में पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया था। मामले में महिला कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता वंदना पोपली ने कहा कि कार्यक्रम की पूरी तैयारी कर ली गई थी। बिना वजह राजनीतिक ड्रामा किया जा रहा है।

सदर थाने में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने की नारेबाजी
यूनिवर्सिटी से हिरासत में लेने के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर और कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव चिरंजीव राव को समर्थकों के साथ सदर थाने ले जाया गया। सदर थाने पहुंचने के बाद अशोक तंवर और चिरंजीव राव ने समर्थकों के साथ यूनिवर्सिटी प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने यूनिवर्सिटी प्रशासन पर राजनीति करने का आरोप लगाया।

हंगामे पर डीएसपी और ड्यूटी मजिस्ट्रेट पहुंचे बात करने
थाने में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के हंगामे और नारेबाजी करने की सूचना मिलने पर डीएसपी सतपाल सिंह और ड्यूटी मजिस्ट्रेट नगराधीश डॉक्टर वीरेन्द्र सिंह थाने पहुंच गए। दोनों अधिकारियों ने थाने में डॉ अशोक तंवर और चिरंजीव राव अन्य पदाधिकारियों से बात की। अधिकारियों ने कांग्रेस पदाधिकारियों को समझाने का प्रयास किया कि बिना अनुमति विश्वविद्यालय में कार्यक्रम करने की छूट नहीं दी जा सकती है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

राजस्थान चुनाव: विशेषज्ञों का दावा, मानवेन्द्र के साथ राजपूतों के वोट भी गए कांग्रेस के पास

वरिष्ठ बीजेपी नेता जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र