यूट्यूब ने बदल दी इस सिंगर की जिंदगी

न्यू मीडिया के दौर में जोनिता गांधी उन चुनिदा लोगों में शामिल हैं, जिन्होंने सोशल मीडिया के जरिए अपार लोकप्रियता हासिल की है। यूट्यूब उनकी जिंदगी में बड़ा बदलाव लेकर आया है। यही वजह है कि वह सोशल मीडिया को आज के युग की सबसे बड़ी क्रांति मानती हैं।

ड्रीम गर्ल’ हेमा मालिनी इस फिल्म से कमबैक करने जा रहीं

यूट्यूब ने बदल दी इस सिंगर की जिंदगी

 

जोनिता गांधी यूट्यूब पर ‘जोनिताम्यूजिक’ के नाम से अपना चैनल शुरू किया

इंडो-कनाडाई मूल की गायिका जोनिता ने साल 2010 में यूट्यूब पर ‘जोनिताम्यूजिक’ के नाम से अपना चैनल शुरू किया। कुछ ही समय में इस चैनल को संगीत-प्रेमियों का भरपूर प्यार मिलने लगा। अब तक इस चैनल को 13 लाख से अधिक बार देखा जा चुका है, जबकि इसके सब्सक्राइबर की संख्या एक लाख से पार हो चुकी है।

जोनिता ने कसौली में जेनेसिस फाउंडेशन द्वारा आयोजित ‘रिदम एंड ब्लूज फेस्टिवल’ में आईएएनएस के साथ बातचीत में कहा, “मैं बहुत खुशकिस्मत हूं कि लोगों ने मेरी आवाज को पसंद किया। सोशल मीडिया मेरे लिए वरदान बनकर उभरा। सोशल मीडिया आज के सदी की सबसे बड़ी क्रांति है, क्योंकि आपके सामने अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए खुला मंच है।”

सोशल मीडिया के जरिए लोकप्रियता हासिल करने वाली जोनिता इसकी खामियां बताते हुए कहती हैं, “हर तकनीक की खामियां भी होती हैं। यह जरूरी नहीं कि हर किसी को आपकी आवाज पसंद आएगी। जिन लोगों को आपकी आवाज पसंद नहीं आती है तो वह काफी भद्दे तरीके से आपकी आलोचना भी करते हैं।”

जोनिता ने फिल्म ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ का टाइटल ट्रैक गाया है। इस फिल्म के साथ शुरू हुआ उनका बॉलीवुड सफर कई हिट गानों के साथ तेजी से आगे बढ़ रहा है। अपने इस सफर के बारे में वह कहती हैं, “एक अच्छा गाना गायक के लिए वरदान साबित होता है। मैं इस मामले में बहुत भाग्यशाली रही कि इतने छोटे से वक्त में मैंने जितने भी गाने गाए, वे खासा लोकप्रिय हुए हैं। फिर चाहे वह फिल्म हाईवे का गिलहरिया हो या ‘ऐ दिल है मुश्किल’ का ब्रेकअप सॉन्ग।”

जोनिता ए.आर.रहमान की बहुत बड़ी प्रशंसक हैं। वह फिल्म हाईवे में रहमान के साथ काम भी कर चुकी हैं। अपने इस अनुभव के बारे में वह कहती हैं, “रहमान जैसी हस्ती के साथ काम करना एक सपने के सच होने जैसा है। उनसे आपको बहुत कुछ सीखने को मिलता है। वह प्रेरणा के भंडार हैं।”

भारतीय मूल की कनाडाई गायिका जोनिता के लिए भाषाई चुनौती सबसे बड़ी है। कनाडा में पली-बढ़ी जोनिता के लिए हिंदी सहित अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में गाना इतना कितना मुश्किल होता है? इसके जवाब में वह कहती हैं, “मुश्किल नहीं है, मैं अपनी हिंदी को बेहतर बनाने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हूं। हां, हिंदी सीखने का किसी तरह का प्रशिक्षण नहीं ले रही हूं। बचपन से ही हिंदी गाने सुनती हुई बड़ी हुई हूं। किसी भाषा को सुनने, पढ़ने और बोलने से आप उसे ज्यादा बेहतर तरीके से समझ सकते हैं। बस, वही कर रही हूं।”

जोनिता हर तरह का गाना गाने की इच्छा रखती हैं। वह किसी एक विधा में बंधकर गाना गाने में विश्वास नहीं करती। वह कहती हैं, “मैं हर तरह के गीत गा रही हूं। मुझे किसी खास विधा में बंधकर गाना पसंद नहीं है। बड़े स्टार्स के लिए गाना चाहती हूं। रहमान और सोनू निगम जैसे गायकों के साथ गाना चाहती हूं। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी पहचान बनाने की इच्छा है। यह सिर्फ शुरुआत है, अभी तो बहुत दूर जाना है।”

 

 

loading...
Loading...
Loading...
=>
loading...
=>

You may also like

अश्लीलता फैलाने वाली स्वरा भास्कर ने कहा हिंदुओं को पाखंडी

स्वरा भास्कर आजकल मोदी सरकार से कुछ ज्यादा