युवक की मौत के बाद बवाल, सीएम योगी सख्त इंस्पेक्टर सस्पेंड, अपराधियों पर रासुका

जुबिली न्यूज़ डेस्क
लखनऊ. राजधानी के मलिहाबाद इलाके में युवक की मौत के बाद बिगड़े हालात से नाराज़ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मलिहाबाद के इन्स्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया है. मुख्यमंत्री ने पीड़ित परिवार को तत्काल मुआवजा देने और अपराधियों के खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई के आदेश दिए हैं.
युवक की मौत से आक्रोशित लोगों ने हरदोई रोड जाम कर प्रदर्शन किया और हत्या के आरोप में पकड़े गए लोगों को मौके पर लाने की मांग करने लगे. पुलिस ने आरोपितों को सौंपने से इनकार कर दिया तो भीड़ का आक्रोश और बढ़ गया और भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर पुलिस को खदेड़ दिया.

Loading...

 
भीड़ ने अचानक पुलिसकर्मियों पर हमला किया तो कई पुलिसकर्मी घायल हो गए. हालात बेकाबू होने लगे तो पुलिस ने भीड़ पर आंसूगैस के गोले छोड़ने के साथ ही कई राउंड हवाई फायरिंग की. पुलिस की कार्रवाई से मौके पर भगदड़ मच गई, इसी बीच एक दुकान पर बैठा युवक गंभीर रूप से घायल हो गया. लोगों का आरोप है कि उसे पुलिस की गोली लगी है लेकिन पुलिस ने गोली लगने की घटना की पुष्टि नहीं की है.
आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह ने बताया कि मलिहाबाद के 27 वर्षीय रामविलास की मौत के बाद गुलाम अली, मुफीद, शानू, मुस्तकीम और गुड्डू के खिलाफ गैर इरादतन हत्या, बलवा, मारपीट, गाली गलौज और धमकी देने का मुकदमा कायम किया गया है. इंस्पेक्टर मलिहाबाद सियाराम वर्मा को सस्पेंड कर दिया गया है. गिरफ्तार लोगों पर एनएसए के तहत कार्रवाई की जा रही है.
यह भी पढ़ें : गैंगरेप पीड़िता को ही दोषी ठहराने पर पाकिस्तान में मचा बवाल
यह भी पढ़ें : बॉलीवुड से आई एक और बुरी खबर, अब…
यह भी पढ़ें : कंगना को इशारों में शिवसेना की नसीहत, कहा-पानी में रहकर मगरमच्छ से बैर…
यह भी पढ़ें : समाज के लिए जीने वाले एक सन्यासी का जाना
मृतक रामविलास के घर वालों का आरोप है कि पुलिस जानबूझकर हत्या का केस नहीं दर्ज कर अपराधियों को बचाने का प्रयास कर रही है. घर वालों ने मांग की कि हत्या का केस दर्ज किया जाए, दो फरार आरोपितों को गिरफ्तार किया जाए और दस लाख रुपये मुआवजा दिया जाए.
जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश आज मृतक रामविलास के मलिहाबाद क्षेत्र के दिलावर नगर स्थित घर गए और परिवार के लोगों से मुलाक़ात की. जिलाधिकारी ने मृतक की पत्नी सुमन देवी के बैंक खाते में शासन की तरफ से पांच लाख रुपये की सहायता राशि ट्रांसफर करवाई. जिलाधिकारी ने बताया कि ग्रामीण आवास योजना के तहत सुमन को आवास दिया जाएगा. उसे विधवा पेंशन मिलेगी. रामविलास के पिता को वृद्धावस्था पेंशन स्वीकृत की जा रही है.

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...