यात्रियों से भरी बस में पहाड़ी से गिरा बोल्डर…लोगो में मची अफरा तफरी…

उत्तराखंड के नैनीताल में सोमवार दोपहर या‌त्रियों से भरी बस (यूए12-7108) पर पहाड़ से बोल्डर गिरने से भीषण हादसा हो गया।सोमवार की सुबह एक बस (यूए12-7108) जागेश्वर से पदमपुर कोटद्वार जा रही थी।यात्रियों से भरी बस में पहाड़ी से गिरा बोल्डर
बस जैसे ही लोहाली के समीप पहुंची तभी पहाड़ी से विशाल बोल्डर उस पर आ गिरा। इस हादसे में बस सवार पांच लोगों की मौत हो गई जबकि 11 अन्य सवार गंभीर रूप से घायल हो गए।

हादसे की सूचना पर एडीएम व एसडीएम व पुलिस अधिकारी रेस्क्यू टीम के साथ  घटना स्थल पर पहुंचे व बचाव व राहत कार्य शुरु किए गए। आसपास के लोगों ने भी घायलों को अस्‍पताल में भर्ती कराने में मदद की। बताया गया कि बस में 27 लोग सवार थे।

बता दें कि राष्ट्रीय राजमार्ग-87 (हल्द्वानी-अल्मोड़ा) पर सड़क चौड़ीकरण के चलते एक माह से रात में वाहनों का आवागमन पूर्णत: बंद है। 15 अप्रैल से 25 मई के बीच रात आठ बजे से प्रात: चार बजे तक इस मार्ग पर टू-लेन चौड़ीकरण का काम होने की वजह से इस अवधि में हल्द्वानी व अल्मोड़ा के बीच चलने वाले वाहन वाया रामगढ़, नथुवाखान मौना क्वारब मार्ग से संचालित किये जा रहे हैं।

सड़क मार्ग पर चट्टानों को तोड़ने और सड़क को चौड़ा करने के चलते एक तरफ यात्रियों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है तो दूसरी तरफ सड़क निर्माण से जुड़े विभागों पर भी बरसात से पहले जल्द से जल्द सड़क के निर्माण का दबाव भी है। एनएच का चौड़ीकरण कर टू-लेन किए जाने को लेकर भूतल परिवहन मंत्रालय की मंजूरी मिल चुकी है। पिछले एक माह से अधिक समय से इस मार्ग पर रात दिन काम चल रहा है।

यह भी पढ़ें:  Facebook चलाने वाले लडको के लिए बड़ी खुशखबरी ये लड़की सेक्स के लिए बुलाती है होटल में…

किमी संख्या 35 (खैरना) से किमी संख्या 44 (काकड़ीघाट) के बीच अत्यधिक कठोर चट्टानें आने से वाहनों की आवाजाही के साथ काम करना सुरक्षा के लिहाज से मुश्किल साबित हो रहा है। यही वजह है कि आवागमन के दौरान कब चट्टान खिसक जाये किसी को पता नही चलता। यात्रा मार्ग में चट्टानों के खिसकने के चलते ही आज यह दर्दनाक हादसा हो गया।

You may also like

केजरीवाल को लगा बड़ा झटका, पंजाब में पार्टी के 16 नेताओं ने दिया इस्‍तीफा

पंजाब में आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका