यदि घर में हैं आपके ये चीजें तो, नहीं सताएगा वास्तु दोष का डर

- in धर्म

क्या आपको लगता है कि आपकी मेहनत की कमाई पानी की तरह बह जाती है? अक्सर ऐसा कई लोगों के साथ होता है, जब अपनी मेहनत की कमाई का हिसाब करने वे बैठते हैं तो बेवजह के खर्च सामने आते हैं। ऐसे वास्तुशास्त्र के अनुसार, घर का वास्तु दोष भी इसकी एक बड़ी वजह होती है। दरअसल वह वास्तु दोष ही है जो बिना सोचे-समझे पैसे खर्च कराता है और समय से पहले ही आपकी जेब खाली हो जाती है। आइए समझते हैं कि किन कारणों से घर में वास्तु दोष पैदा होते हैं और ऐसे कौन से उपाय हैं जिनसे यह हमेशा के लिए दूर हो सकते हैं…यदि घर में हैं आपके ये चीजें तो, नहीं सताएगा वास्तु दोष का डर

उत्तर दिशा है जल की दिशा
वास्तुशास्त्र के अनुसार, उत्तर दिशा को जल की दिशा माना गया है। इस कारण से घर में इसी दिशा में पानी स्टोर करने जैसे पानी से संबंधित कार्य करने चाहिए। आमतौर पर फ्लैट्स आदि में ऐसा करना थोड़ा मुश्किल रहता है। घर में फ्रिज व फिल्टर रखने के लिए पहले से ही एक जगह तय करके दी जाती है। ऐसे में आप वास्तु दोष दूर करने के लिए उत्तर दिशा में डिजाइनर घड़ा पानी भरकर रख सकते हैं। मगर हमेशा ध्यान रखें की इसमें हर दिन पानी बदलकर ताजा भरना होता है। इसी प्रकार गलत दिशा में पानी की निकासी भी अशुभ होती है। शास्त्र के अनुसार, उत्तर या पूर्व दिशा में की गई जल की निकासी आर्थिक दृष्टि से शुभ होती है।

घर में होनी चाहिए इनकी पूजा
घर में वास्तु दोष दूर करने के लिए वास्तु पुरुष की पूजा करनी चाहिए। इसके लिए आप घर में वास्तु पुरुष की तस्वीर या मूर्ति लगाएं और नियमित रूप से कपूर जलाकर उनकी पूजा करें। ऐसे वास्तु दोष के अशुभ प्रभाव दूर होने के साथ ही वास्तु देव उनसे आपकी रक्षा करते हैं। इसके अलावा पूजा करते समय हमेशा लक्ष्मी माता के साथ कुबेर यंत्र व मूर्ति की भी आराधना करनी चाहिए। वहीं भगवान विष्णु व माता लक्ष्मी के साथ शंख रखना न भूलें।

ड्राइंग रूम में इसे रखना शुभ
अगर आप वास्तु दोष से पीड़ित हैं तो इसके लिए अपने घर में 9 पिरामिड रखें। इससे हर दिशा के वास्तु दोष दूर हो जाते हैं। अगर ऐसा करना संभव नहीं है तो कम से कम उस भाग में एक पिरामिड अवश्य रखें, जहां घर के लोग अक्सर साथ में समय बिताते हैं। इससे सभी लोगों में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है जो घर की उन्नति व धनलाभ में सहायक सिद्ध हो सकते हैं।

पंचमुखी हनुमान की करें पूजा
वास्तुशास्त्र के अनुसार, पंचमुखी हनुमान को वास्तु संबंधी दोष को दूर करनेवाला माना गया है। इस कारण से आपके घर में एक पंचमुखी हनुमान की प्रतिमा को पूजा घर में अवश्य विराजित करें। उनकी कृपा से आपके वास्तु दोष दूर होंगे और घर के माहौल पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

बेडरूम की दीवार अहम
वास्तुशास्त्र के अनुसार, बेडरूम में गेट के सामने वाली दीवार बेहद अहम होती है। दरअसल यह स्थान भाग्य और संपत्ति का क्षेत्र माना जाता है। इस कारण से इस दिशा में किसी भी तरह की कोई बाधक नहीं होनी चाहिए। हालांकि यहां लोग सजावट के लिए भारी धातु की चीजें सजा लेते हैं, मगर यह मालूम हो कि इस दीवार में दरार आना काफी अशुभ माना जाता है। ऐसे भविष्य में आनेवाले किसी अशुभ संकेत का भी पता चलता है।

मुख्य द्वार पर इन्हें सजाएं
शास्त्र के अनुसार, घर के मुख्य द्वार पर स्वास्तिक का चिन्ह बनाने के लिए कहा जाता है। इसके साथ ही घर की तरफ देखते हुए गणेशजी भी शुभ लाभ देते हैं। हालांकि वास्‍तु के अनुसार, यदि आपके घर का मुख्‍य द्वार दक्षिण या उत्तर की दिशा में हो तभी आपको मुख्‍य द्वार पर गणेशजी की प्रतिमा लगानी चाहिए। मुख्‍य द्वार पूर्व या पश्चिम दिशा में होने पर गणेशजी की मूर्ति नहीं लगानी चाहिए। वहीं हमेशा पूजा घर में लाल वस्त्र में लपेटकर नारियल भी रखना चाहिए। शास्त्र के अनुसार, इसे साक्षात लक्ष्मीजी का स्वरूप माना गया है।

मनी प्लांट हमेशा यहां लगाएं
घर में मनी प्लांट लगाना हमेशा शुभ माना गया है। वास्तुशास्त्र के अनुसार, इसके लिए आग्नेय दिशा यानी दक्षिण-पूर्व दिशा को शुभ माना गया है। दरअसल इस दिशा के अधिपति गणेशजी व स्वामी ग्रह शुक्र है। इस कारण से गणेशजी जो अमंगल के नाशक हैं और शुक्र जो सुख-समृद्धि का कारक ग्रह होता है, आपके जीवन में सुख और ऐश्वर्य की वर्षा करते हैं। इसलिए धनलाभ हेतु हमेशा इसी दिशा में मनी प्लांट लगाना चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

क्या आपने सुनी है हनुमान जी से जुड़ी से ये अनोखी कथा

केशवदत्त नाम का ब्राह्मण अपनी पत्नी अंजलि के