मैं बेबस थी, उसने नशीली चाय पिलाकर मेरा MMS बना लिया…

5 साल मैं चुपचाप शोषण की शिकार बनती रही। मैं मजबूर और बेबस थी। उसने मुझे नशीली चाय पिलाकर मेरा एमएमएस बना लिया था। पीड़िता ने जब फूट-फूट कर रोते हुए पुलिस को ये अापबीती सुनाई तो वहां मौजूद हर शख्स सन्न रह गया।  
मैं बेबस थी, उसने नशीली चाय पिलाकर मेरा MMS बना लिया...
ये मामला है कानपुर के बिठुर इलाके का। पीड़िता ने तहरीर में बताया वह कानपुर के बिठूर स्थित लॉ कॉलेज में पढ़ाई कर रही थी। वहां उसके साथ गोरखपुर निवासी जगदांनंद मिश्रा भी पढ़ाई कर रहा था। वह कानपुर के परेड चौराहे के पास किराए के मकान में रहता था। 

ये भी पढ़े: 3 बार गैंगरेप-5 बार एसिड अटैक, जेठ बोला- पैसों के लिए ये महिला करती है ऐसा-3 बार लगा FR

1 मार्च 2012 को पढ़ाई के नोट्स देने के बहाने जगदानंद ने उसे कानपुर के परेड चौराहा पर स्थित एक होटल में बुलाया। वह उससे परिचीत थी इसलिए विश्वास करके चली गई। लेकिन उसे क्या पता था कि उसके साथ क्या होने वाला है। 

आरोपी ने उसे चाय ऑफर की जिसमें नशीला पदार्थ मिला था। उसे पीते ही उसे कोई होश न रहा। इसका फायदा उठाकर जगदानंद ने शारीरिक संबंध बनाए। और एमएमएस बना लिया। 

होश में आने पर जब विरोध किया कहा मुंह बंद रखो, एमएमएस बना लिया है। अगर ज्यादा विरोध किया तो इंटरनेट पर डालकर बदनाम कर दूंगा। इस डर से पांच साल तक खामोश रही। 

अारोपी पीड़िता को लंबे वक्त तक ब्लैकमेल करता रहा। जब वह उससे तंग आ गई तो उसने ठान लिया अब वह ये बात पुलिस को बता देगी। इस पर आरोपी शादी का झांसा दिया। बाद में पता चला कि जगदानंद की पत्नी व दो बच्चे हैं। इस पर उसने शादी से इंकार कर दिया। वह परिवार के खिलाफ फर्जी मुकदमे लिखा रहा है। पीड़िता ने खुद व परिवारवालों की हत्या की आशंका भी जताते हुए सुरक्षा की मांग की। पुलिस ने रेप समेत अन्य धाराओं में आरोपी जगदानंद के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है। कोतवाल अनिल सिंह ने बताया कि युवती के बयान व डॉक्टरी परीक्षण के बाद इस मामले की तफ्तीश के लिए मूलरूप से एफआईआर कानपुर के संबंधित थाने में भेजी जाएगी।
 
 
Loading...
loading...
error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com