गुरुग्रामः मेट्रो स्टेशन और ट्रेन के अंदर हुई अश्लीलता की सारी हदें पार

एनसीआर महिलाओं के लिए कितना सुरक्षित ये अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अब अंधेरे रास्तों, एकांत इलाकों में ही नहीं मेट्रो स्टेशन और मेट्रो ट्रेन जैसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट के साधनों में भी अब महिलाओं के साथ अश्लील हरकत होने लगी है।
यहां हम सिर्फ किसी एक उदाहरण की बात नहीं कर रहे बल्कि 4 दिन एक जैसी दो घटनाओं की बात कर रहे हैं। बीते चार दिन में गुरुग्राम के मेट्रो स्टेशन और गुरुग्राम आ रही मेट्रो में महिलाओं के साथ अश्लीलता के दो मामले सामने आए हैं जो सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल खड़े करते हैं। जानिए क्या है दोनों मामले….

Loading...

पहला मामला…
बात 14 जून की है। हुडा सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन पर शाम के वक्त एक 29 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अपने एक दोस्त से मिलने गुरुग्राम गई थी। मेट्रो से उतर कर वह स्टेशन में मौजूद एक दुकान से टॉप खरीदने चली गई। उस दुकान से निकलने के बाद वह एस्केलेटर से नीचे जाने लगी तो उसे लगा कि उसकी पीठ पर कुछ अजीब सा है। वह पीछे मुड़ी तब उसे अहसास हुआ कि एक युवक उसके साथ अश्लीलता कर रहा था।

युवती ने बताया कि यह देख वह हैरान, डरी हुई और अवसाद में चली गई। पीड़िता ने उसका विरोध किया। उसने फिर से महिला के साथ अश्लीलता की और गाली-गलौच भी की। तब युवती ने उसे थप्पड़ मार दिया। युवती के अनुसार आरोपी युवक ने उस पर चिल्लाना शुरू कर दिया और लोग देखते रहे। तब युवती मदद के लिए चिल्लाई लेकिन कोई मदद के लिए नहीं आया। वहां उस समय कोई पुलिसवाला भी नहीं था। भागने से पहले एक बार फिर उसने युवती के साथ अश्लीलता की और तेजी से भाग निकला। पीड़िता दौड़कर पुलिस चौकी की तरफ गई लेकिन वह बंद थी।

क्या हुआ था उस रात…

पीड़िता ने इस घटना का जिक्र अपने ट्विटर अकाउंट पर भी किया। उसने लिखा, ”मैंने उसे थप्पड़ मारा इसका मतलब कि कुछ गलत हुआ है। क्या यह काफी नहीं था लोगों को बताने के लिए? हमें नहीं चाहिए मुफ्त सफर। हमें सुरक्षा चाहिए जिसका वादा हर सरकार करती है लेकिन कोई इसे पूरा नहीं करती। हमें बाहर निकलने से भी डर लगता है। क्या रात के 9.25 मिनट सच में बहुत देर थी?” 

गुरुग्राम पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकेन ने कहा, ट्विटर पर महिला द्वारा की गई शिकायत के बाद मेट्रो पुलिस स्टेशन की एक टीम उसके पास पहुंची और उससे लिखित शिकायत दर्ज कराने को कहा क्योंकि ये एक वैधानिक औपचारिकता है। इस पर महिला ने बताया है कि उसने सीसीटीवी फुटेज में आरोपी की पहचान कर ली है लेकिन वह अब तक यह निर्णय नहीं कर पाई है कि एफआईआर कराए कि नहीं क्योंकि वह अपनी सुरक्षा को लेकर डरी हुई है।

बता दें कि जिस रात यह घटना हुई थी उस रात पीड़िता ने गुरुग्राम पुलिस को फेसबुक मैसेंजर के जरिए संपर्क करने की कोशिश की थी, लेकिन कोई उत्तर नहीं मिला। फिर वह डीएमआरसी के अधिकारियों के पास पहुंची जिन्होंने उसे सीसीटीवी में आरोपी की पहचान करने के लिए रविवार को बुलाया था। इसी फुटेज में वह आरोपी की पहचान कर चुकी है। हालांकि रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है।

क्या है दूसरा मामला…

मेट्रो से गुरुग्राम आ रही युवती को अश्लील इशारे करने का मामला सामने आया है। पीड़िता ने इसकी सूचना मेट्रो थाना पुलिस को दी है। इस मामले में फिलहाल कोई एफआईआर दर्ज नहीं हो पाई है।

जानकारी के मुताबिक, युवती ने शिकायत में कहा कि सोमवार शाम को वह मेट्रो से दिल्ली से गुरुग्राम की तरफ आ रही थी। इसी दौरान उनके सामने वाली सीट पर बैठा युवक उसे अश्लील इशारे करने लगा।

पहले उसने नजरअंदाज किया, लेकिन उसकी हरतक बढ़ गई। आरोप है कि युवक ने अपने प्राइवेट पार्ट को निकालकर अश्लील इशारे करने शुरू कर दिए। मेट्रो स्टेशन आते ही युवती ने पुलिस को संपर्क किया। देर शाम तक युवती थाने में मौजूद थी और इस पर युवती की शिकायत पर कार्रवाई जारी थी।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *