मुसलमानों के जज्बे को नहीं हिला पाए, उस मस्जिद में दोगुने तादाद में पहुंचे नमाज़ी, दिया बड़ा बयान

image source: google

इस वक़्त पूरी दुनिया में चर्चा है न्यूजीलैंड की और वहां पर बीते कल हुई घटना की. अपने आप में यह घटना वाकई में बेहद भयावह है. पूरी दुनिया की तरफ से इस पर दुख जताया जा रहा है. वहीँ तमाम देशों ने इसकी निंदा की है. इस मामले में तुक्री की तरफ से बड़ा बयान आया है और कहा गया है कि नमाज़ पढ़ रहे लोगों को निशाना बनाना कायरता है. इसके अलावा एर्दोगन ने इसे दुनिया भर में तेज़ी से फैलते इस्लामोफोबिया,
की नतीजा बताया है. उन्होंने कहा है कि जितनी हो सके इसे रोकने की ज़रुरत है. वहीँ इसके अलावा उन्होंने इस दिशा में सख्त कदम उठाने की अपील दुनिया भर के देशों की है. न्यूजीलैंड की पीएम ने भी इस पर शोक जताया है और इसे आतंकवादी हम ला बताया है. पूरी दुनिया हैरान है कि आखिर कोई इतना वहसी कैसे हो सकता है. आपको बता दे कि इस पूरी घटना का वीडियो भी सामने आया है और खुद आरोपी ने इस,
इसे रिकॉर्ड किया है.ज़ाहिर सी बात है कि ऐसा करने का उसका मकसद है दह शत फैलाना. बहरहाल, इस मामले में पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया है. आपको बता दें कि इस घटना में करीब पचास के आस पास लोगों की ज़िन्दगी चली गई है. इसके अलावा घायल भी कई हैं. बहरहाल, इस पूरी घटना का एक मकसद दहशत फैलान भी था, लेकिन हो नहीं सका. सोशल मीडिया पर कई फोटो सामने आई है. इन फोटो को उसी, मस्जिद का बताया जा रहा है जहाँ पर यह घटना हुई है. कहा जा रहा है कि इस घटना के बाद ईशा की नमाज़ में वहां पर रोज़ के मुकाबले करीब दोगुने लोग आये और नमाज़ अदा की है. सोशल मीडिया पर ऐसा दावा किया जा रहा है. हालाँकि हम इसकी पुष्टि नहीं कर रहे हैं. लेकिन इसकी कई फोटो सामने आ रही है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button