अपने दोस्त की जान बचाने एकजुट हुए 100 साथी, 4 दिन में एकत्रित किए 5 लाख रूपए

- in राजस्थान, राज्य

जयपुर। राजस्थान में जोधपुर जिले के फलौदी निवासी 14 वर्षीय किशोर रवि जोशी की जान बचाने के लिए उसके 100 मित्र एकजुट हो गए और उन्होंने महज चार दिन में पांच लाख रूपए एकत्रित कर अपने साथी को इलाज के लिए दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल भेज दिया ।

मित्र की जान बचाने एकजुट हुए 100 साथी, 4 दिन में एकत्रित किए 5 लाख रूपएरवि जोशी का हार्ट छोटा होने के साथ ही वाल्व पूरी तरह से डैमेज हो गया था । रवि जोशी का इलाज जोधपुर के एम्स अस्पताल में चल रहा था कि इसी दौरान उसे लकवा हो गया । इस पर जोधपुर के चिकित्सकों ने दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराने की सलाह दी,लेकिन इसके लिए सात लाख रूपए रूपए चाहिए थे और रवि के पिता शांति लाल जोशी की आर्थिक हालत खराब होने के कारण वे इतने पैसे जुटाने में सक्षम नहीं थे ।यह जानकारी रवि के मित्र परमेंद्र और दीपक पुरोहित को मिली तो उन्होंने अन्य मित्रों के साथ मिलकर सोशल मीडिया पर ग्रुप बनाया और महज चार दिन में पांच लाख रूपए एकत्रित कर लिए ।

रवि के साथ पढ़ने वाले मित्रों और सोशल मीडिया पर जुड़ने वालों ने राशि एकत्रित की । इस ग्रुप में दिल्ली फोर्टिस अस्पताल के चिकित्सक डॉ.राजू व्यास भी जुड़े,उन्होंने शेष खर्च खुद वहन करने का आश्वासन दिया । पैसा एकत्रित होने और डॉ.राजू व्यास का आश्वासन मिलने के बाद रवि को दो दिन पहले दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल में भेजा गया है । अब वहां उसका इलाज चल रहा है ।

शांति लाल जोशी ने बताया कि वे एक मंदिर में पुजारी हैं। रवि को बचपन से ही हार्ट की समस्या थी,उसका इलाज भी चल रहा था । चिकित्सकों ने उसका हार्ट छोटा बताया था । पिछले दिनों उसकी तबीयत बिगड़ी तो वे रवि को लेकर जोधपुर एम्स अस्पताल पहुंचे,वहां जांच के बाद पता चला कि उसका वाल्व भी डैमेज हो गया,इसी बीच लकवा हो गया । अचानक आई इस समस्या से वे परेशान थे,लेकिन रवि के मित्रों ने उसको इलाज के लिए दिल्ली ले जाने में काफी मदद की । रवि मात्र 8वीं कक्षा तक ही पढ़ सका है ।

You may also like

सुप्रीम कोर्ट का अयोध्या मामले में इसी हफ्ते आ सकता है ये बड़ा फैसला

अयोध्या राम जन्मभूमि मामले से जुड़े एक अहम केस में