मां की महिमा: देवभूमि के इस दुर्गा मंदिर की रखवाली करते हैं शेर

- in धर्म

उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले में स्थित मां दुर्गा के इस मंदिर की रखवाली शेर करते हैं, लेकिन वह स्थानीय लोगों को कोई नुकसान नहीं पहुंचाते हैं। नवरात्र पर मां के इस मंदिर में भक्तों का तांता लग जाता हमां की महिमा: देवभूमि के इस दुर्गा मंदिर की रखवाली करते हैं शेर

यह भी पढ़े: मृत्यु की देवी मानी जाती हैं मां काली, जानें क्या हैं पूजन विधि

झूला देवी मंदिर, झुला देवी मंदिर के रूप में भी जाना जाता है, रानीखेत शहर से 7 किमी. की दूरी पर स्थित यह एक लोकप्रिय मंदिर है। यह मंदिर मां दुर्गा को समर्पित है।

यह भी पढ़े: यहां है वो दिव्य स्थान, जहां गिरा था मां सती का कंकाल

मान्यता है कि रानीखेत के जिस क्षेत्र में यह मंदिर मौजूद है वहां जंगली जानवरों का आतंक था। इस कारण वहां के स्थानीय लोग घर से निकलने में डरते थे।

यह भी पढ़े: कर्ण से लीजिए ये तीन सीख, न करें कभी ऐसी गलतियां

एक बार मां दुर्गा किसी ग्रामीण के सपने में आई और उसे किसी जगह की खुदाई करने को कहा। जब खुदाई की गई तो वहां से एक देवी की मूर्ति निकली जिसको इसी मंदिर में झूले पर स्‍थापित किया गया।

यह भी पढ़े: इस मंदिर में जलता है पानी से दिया

लोगों का मानना है कि मंदिर में प्रार्थना करने वाले लोगों की मनोकामनाएं मां झूला देवी पूरी करती हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

विजयादशमी 2018: दशहरे पर इस विधि से करें शस्त्र पूजा, मिलेगी शत्रुओं पर विजय

असत्य पर सत्य की जीत का पर्व दशहरा