ट्रेन में सिगरेट पीने पर टोका तो महिला यात्री को पीटकर मार डाला

अमृतसर से टाटानगर जा रही जलियावाला बाग एक्सप्रेस ट्रेन में बरेली स्टेशन के पास सिगरेट पीने को लेकर तीन युवकों का महिला से विवाद हो गया। महिला के बेटे ने विरोध किया तो युवक हमलावर हो गए।

उन्होंने महिला, उसके बेेटे व बहू की लात-घूंसों से जमकर पिटाई की। हादसे में महिला के गंभीर चोटें आईं। मारपीट करने वाले दो युवक चेन पुलिंग करके रास्ते में उतरकर भाग गए, जबकि एक को यात्रियों ने जीआरपी की मदद से पकड़ लिया। ट्रेन शाहजहांपुर स्टेशन पर पहुंची तो महिला को जिला अस्पताल भेजा गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

बिहार के डेहरी आनसोन में डालमियानगर थाने के मखरिन गांव निवासी चिंतादेवी (50) का बेटा राहुल जालंधर में नौकरी करता है। छठ पूजा पर चिंतादेवी अपने बेटे राहुल व बहू बबिता के साथ जलियावाला बाग ट्रेन के जनरल कोच में बैठकर घर जा रही थीं। तड़के करीब साढ़े तीन बजे बरेली के पास कोच में बैठे तीन युवकों ने सिगरेट पीना शुरू कर दी। चिंतादेवी ने बीमारी का हवाला देते हुए युवकों को टोका, उन्होंने कहा कि सिगरेट के धुएं से परेशानी हो रही है, जिस पर युवक उनसे अभद्रता करने लगे।

चिंतादेवी के बेटे राहुल ने इसका विरोध किया तो तीनों हमलावर हो गए। उन्होंने राहुल को जमकर पीटना शुरू कर दिया। बचाव करने पर बबिता व चिंतादेवी को भी पीटा। चिंता देवी के ज्यादा चोटें आईं, जिससे उनकी हालत बिगड़ गई। इसके बाद आरोपितों ने बरेली कैंट के आगे चेनपुलिंग कर दी। दो युवक ट्रेन से उतरकर भाग गए लेकिन एक आरोपित को अन्य यात्रियों ने पकड़ गया।

राहुल ने ट्रेन के लोको पायलट को घटना के बारे में बताया। जिस पर लोको पायलट ने कंट्रोल को सूचना दी। कंट्रोल ने जीआरपी व आरपीएफ को इस बारे में बताया। जिसके बाद शाहजहांपुर स्टेशन पर ट्रेन रुकते ही फोर्स बोगी के पास पहुंच गया और चिंतादेवी को उतारकर जिला अस्पताल भेजा। जहां डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पकड़े गए युवक को जीआरपी के हवाले कर दिया गया।

युवक ने अपना नाम सोनू निवासी आजमगढ़ के थाना कप्तानगंज के गांव राजापट्टी बताया है। पूछताछ में उसने बताया कि वह भी जालंधर में ही नौकरी करता है। उसे शादी के लिए लड़की वाले देखने आ रहे थे। इसलिए वह दोस्तों के साथ घर जा रहा था। उन लोगों को लखनऊ स्टेशन पर उतरना था, लेकिन उससे पहले विवाद हो गया। एसओ अरविंद कुमार पांडेय ने बताया कि युवक से उसके साथियों के बारे में पूछताछ की जा रही है। जल्द ही अन्य आरोपितों को भी पकड़ लिया जाएगा।

आर्थिक स्थिति खराब 

चिंता देवी सासाराम के डेहरी आन सोन के मकराई ब्रह्मस्थान की रहने वाली थीं। पति की मौत हो चुकी है। आर्थिक स्थिति खराब रहने के कारण दोनों बेटे प्राइवेट कंपनी में नौकरी करने जालंधर चले गए।

राहुल मां और पत्नी के साथ छठ में घर आ रहा था। दूसरा भाई रंजीत जालंधर में है। गांव में दो नाबालिग बहनें काजल और मनीषा हैं। गांव में घटना की जानकारी मिल गई है। रिश्तेदारों को बुलाया जा रहा है, ताकि शव लाया जाए।

Loading...
loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com