भ्रष्टाचार : गरीबो के निवाले में सेंध लगा रहे कोटेदार, महीनो से नही मिला गरीबो को राशन

बलरामपुर। जिम्मेदारों के कुम्भकर्णी नींद सोने के कारण जिले में चहु ओर भ्रष्टाचार फैला है। सड़क से लेकर राशन वितरण तक की योजनाये भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है। आलम यह की अब राशन मांगने पर भी गरीबो को सिर्फ गालियां मिलती है। कोरोना काल का सबसे ज्यादा असर गरीबो और किसानो पर पड़ा है। जिले के किसान बिन मौसम बरसात व ओलावृष्टि की मार झेल चुके है। अब उन्हें मिलने वाले सरकारी राशन पर भी सेंध लग रहा है।

तुलसीपुर क्षेत्र के ग्राम रेहरा व गनेशपुर के ग्रामीण रसूला खातून, कितबुन्निशा, साफिया, साराबानो, नूरेन, बिट्टा, मोमिना, सरवर जहाँ, नफीसा, कोयला आदि का आरोप है की उन्हें महीनों से राशन नही मिला है। ऐसे में वो जैसे तैसे अपना गुजारा कर रहे है। अधिकारियो की उदशीनता के चलते गरीबो को मिलने वाली सरकारी योजना भ्र्ष्टाचार के भेंट चढ़ गई है।

राशनकार्ड धारकों का आरोप है कि कोटदार ने महीनो से राशन नही बाटा है। अधिकांश दिनों में उसकी दुकाने बंद रहती है। अगर कोटे की दुकान खुल भी गई तो कोटेदार अब्दुल्ला से राशन मांगने पर सिर्फ गालियां मिलती है। राशन और हक़ की बात पूँछने पर वह धमकी देता है की चोरी के मुकदमे में फंसा दूंगा मेरी पहुँच ऊपर तक है।

ग्राम रेहरा व गनेशपुर के ग्रामीणों ने बताया की कोटेदार हर महीने यह वादा करके अंगूठा लगवा लेता है की राशन आ गया हैंइस बार पूरा बाटूंगा। अधिकांश ग्रामीणों के राशन कार्ड भी कोटेदार अब्दुल्ला ने जमा कर रखा है। ग्रामीणों का कहना है की अधिकारियो से कई बार शिकायत हुई लेकिन कोई सुनवाई नही होती है।

ग्राम गनेशपुर के निवासी ने बताया की कोटेदार से जब अधिकारियो से शिकायत करने की बात कही जाती है तो वह अपने रसूख और पँहुच की हनक दिखता है। ग्रामीण ने बताया की अब्दुल्ला कहता है की उसकी पहुँच तुलसीपुर के एक महंत तक है। इसलिए कही भी शिकायत कर लो कोई अधिकारी मेरा कुछ नही कर पायेगा। यह सच भी है शिकायत के बाद अधिकारी आते है जाँच करते है और चलते बनते है। नही होती हैं तो सिर्फ कोटेदार पर कार्यवाही।

ग्राम रेहरा व गनेशपुर के सैकड़ो ग्रामीणों ने अपनी मांगो को लेकर तहसीलदार कृष्ण गोपाल तिवारी को ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में ग्रामीणों ने मांग की है कि पूरे मामले की निक्सपक्ष जाँच करवाकर भृष्ट कोटेदार के विरुद्ध कार्यवाही कर उन्हें राशन दिलाया जाये। तुलसीपुर के तहसीलदार कृष्ण गोपाल तिवारी ने कहा है कि मामले के जाँच के लिए सम्बंधित अधिकारी को निर्देशित किया गया है। जाँच में दोषी पाये जाने पर सम्बंधित कोटेदार के विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी।

ग्राम प्रधान ग्राम रेहरा का कहना है कि राशन न मिलने पर ग्रामीणों द्वारा मेरा घर घेरा जाता है। कई बार कोटेदार से कहने पर वह थोडा बहुत राशन का वितरण करता है जिसमे भी घटतौली की शिकायत बार बार आती है। मामले से अधिकारियो को अवगत कराया गया है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button