अभी-अभी: आयी बड़ी खबर भारत ने पकड़े 27 PAK जासूस, कर रहे थे इस साजिस का…

पाकिस्तानी सेना की गैरकानूनी कैद में फंसे पूर्व नेवी अधिकारी कुलभूषण जाधव पिछले कई दिनों से चर्चा में हैं. पाकिस्तान का रोप है कि कुलभूषण भारतीय जासूस हैं वहीं भारत यह साफ कर चुका है कि कुलभूषण जाधव एक पूर्व नेवी अधिकारी हैं जो गलती से पाकिस्तान में दाखिल हो गए थे.

अभी अभी : हुआ बड़ा ऐलान, 6 दिसंबर 2017 से शुरु हो जाएगा राम मंदिर का निर्माण, 23 अप्रैल को…

 आयी बड़ी खबर भारत ने पकड़े 27 PAK जासूस, कर रहे थे इस साजिस का...

यहां यह गौरतलब है कि कुलभूषण जाधव को एक पाकिस्तानी अदालत ने मौत की सजा सुना दी है. इस बारे में भारत का आरोप है कि कुलभूषण जाधव को फ्री ट्रायल का मौका नहीं मिला है.

 

इस मौके पर हम 27 ऐसे पाकिस्तानी जासूसों की लिस्ट निकाल कर लाए हैं, जिन्हें भारत में पिछले कई वर्षों में पकड़ा गया. उनका अदालतों में ट्रायल हुआ. उनसे पाकिस्तानी अधिकारियों को भी मिलने दिया गया.

वहीं पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव के केस में भारतीय अधिकारियों को 13 बार कहने के बावजूद मिलने नहीं दिया गया और सीक्रेट मिलिट्री ट्रायल के ज़रिए फांसी की सज़ा सुना दी.

भारत ने फिर कहा है कि जब तक कुलभूषण जाधव पर काउंसलर एक्सेस नहीं मिलेगा, हमें ये कैसे पता चलेगा कि कुलभूषण जाधव किन हालात में हैं, कहां पर हैं?

ऐसे 27 पाकिस्तानी जासूसों की लिस्ट भारत के पास है, जिन्हें भारत में जासूसी करते भारतीय एजेंसियों ने पकड़ा. इन सभी की काउंसलर एक्सेस पाकिस्तान को दी गई यानी पाकिस्तानी अधिकारियों की अपील पर इन सभी आरोपियों से मिलने दिया गया. इन सभी आरोपियों पर पब्लिक कोर्ट में ट्रायल हुए.

गुरुवार को भारत ने फिर पाकिस्तान को चेतावनी दी है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कुलभूषण जाधव पर पाकिस्तान के हर झूठ का पर्दाफाश किया.

46 साल के कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने कहां पर रखा है. इसके बारे में भी कोई जानकारी नहीं है और जब तक भारतीय अधिकारियों को जाधव से मिलने नहीं दिया जाता. तब तक ये पता नहीं चलेगा कि पाकिस्तान आखिर जाधव के साथ क्या कर रहा है और क्या पाकिस्तान ने किया है. पाकिस्तान जाधव केस में बड़े झूठ छुपा रहा है.

कुलभूषण जाधव के मामले में पाकिस्तान अपने हर झूठ को छुपा नहीं सकता. भारत की चेतावनी के बाद पाकिस्तान में बेचैनी दिखाने वाले हलचल बढ़ी है. बुधवार को नवाज़ शरीफ पाकिस्तान के आर्मी चीफ से मिले थे. पाकिस्तान बहुत दिनों तक जाधव केस में चुप नहीं रह सकता. काउंसलर एक्सेस तो उसे देनी ही पड़ेगी क्योंकि भारत ने आज फिर साफ कर दिया है कि जाधव को बचाने के लिए चाहे जो करना पड़े. वो किया जाएगा.

=>
loading...
=>
loading...