8 नवंबर के बाद अब 3 जनवरी को इतिहास रचेंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली| नोटबंदी से परेशान किसानों को जल्द ही केंद्र सरकार की तरफ से बड़ा तोहफा मिल सकता है| तीन जनवरी को भाजपा की लखनऊ रैली में प्रधानमंत्री खुद किसानों के लिए इस खास सौगात का ऐलान कर सकते हैं| केंद्र सरकार इन दिनों गरीब किसानों और आम जनता को सीधा लाभ देने वाली योजनाओं के बारे में सोच रही है|भाजपा की लखनऊ रैली में हो सकता है कर्जमाफी का ऐलान

भाजपा की लखनऊ रैली में हो सकता है कर्जमाफी का ऐलान

अमर उजाला के मुताबिक, लखनऊ रैली में पीएम मोदी किसानों के लिए कर्ज माफ़ी की योजना का ऐलान करने वाले हैं| पहले तो मोदी इस योजना के पक्ष में नहीं थे लेकिन संघ के उच्च अधिकारियों द्वारा जब उन्हें जमीनी सच्चाई बताई गयी और कई उदाहरण पेश किये गये, जिसके बाद वो इस योजना के लिए राजी हो गये हैं|

यूपी और पंजाब के विधानसभा चुनाव में किसानों की अहमियत को देखते हुए संघ ने सरकार को किसानों के हित में कुछ नई योजनाएं चलाने का सुझाव दिया है| संघ का मानना है कि नोट बंदी के बाद पीएम की छवि अच्छी हुई है, जबकि कर्ज माफ़ करने के बाद पीएम मोदी एक मसीहा के तौर पर खुद को स्थापित करेंगे|

संघ का मानना है कि योजनाओं का असर जमीन तक जाने में बहुत समय लगता है और इसमें बिचौलिए की भी भूमिका होती है| लेकिन कर्ज माफ़ी में किसानों को सीधा लाभ मिलेगा और इसमें बिचौलिए की भूमिका भी नहीं रहती|

संघ के नेताओं ने किसानों के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना और मृदा परीक्षण योजना का पीएम मोदी के सामने उदाहरण पेश किया है और इनके फेल होने के कारण भी गिनाए हैं| इन योजनाओं के फ्लॉप होने के पीछे राज्य सरकारों को जिम्मेदार ठहराया गया है|

इसके साथ सरकार किसानों की बकाया गन्ना राशि के लिए भी जल्द से जल्द नई नीति लाने के बारे नें विचार कर रही है| प्रधानमंत्री खुद पश्चिमी यूपी में गन्ना किसानों को राहट देने के पक्ष में हैं|

वहीं, युवाओं के लिए चल रही विभिन्न योजनाओं को आपस में जोड़कर सरकार उन्हें भी राहत देने के मामले में विचार कर रही है|

 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button