बड़ी-बड़ी बिमारियों का इलाज चुटकियों में कर सकती है ये चीज…

काली मिर्च का इस्तेमाल खाने में स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है लेकिन खाने में स्वाद के अलावा काली मिर्च से कई हेल्थ प्रॉब्लम को दूर किया जा सकता है। सेहत को गुणों से भरपूर काली मिर्च का रोजाना चुटकी भर सेवन करने से कई बीमारियों को दूर किया जा सकता है। आइए जानते है रोजाना काली मिर्च खाने से किन समस्याओं को दूर किया जा सकता है।बड़ी-बड़ी बिमारियों का इलाज चुटकियों में कर सकती है ये चीज...

1. सर्दी-जुकाम
2 ग्राम काली मिर्च के पाउडर को गुड़ में मिलाकर खानिे से सर्दी जुकाम ठीक हो जाता है। इसके अलावा काली मिर्च पाउडर को सूंघने से बार-बार छींकने और सिरदर्द की समस्या ठीक हो जाती है।

2. आंखों के रोग
रोजाना काली मिर्च को घी और शक्कर मिलाकर खाने से आंखों की रोशनी तेज होने के साथ इसके रोग भी दूर हो जाते है।

3. रक्त स्राव
नाक से हो रहें रक्त स्राव को रोकने के लिए काली मिर्च को पीसकर दही और गुड़ में मिलाकर खाए। इससे रक्त स्राव बंद हो जाएगा।

4. याद्दाश्त तेज
रोजाना सुबह काली मिर्च में मक्खन और मिसरी मिलाकर खाने से याद्दाश्त तेज होती है।

5. पेट की बीमारियां
पेट से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए 1 ग्राम काली मिर्च पाउडर को नीबू और अदरक के रस में मिलाकर पीएं।

6. सर्दी में फायदेमंद
सर्दी में शरीर को गर्म, कफ और छाती के दर्द को ठीक करने के लिए काली मिर्च को चाय या दूध में मिलाकर पी सकते है।

7. शरीर को एनर्जी
सर्दी में काली मिर्च का गर्म पानी के साथ सेवन करने से शरीर को एनर्जी मिलती है। इसकी तासीर गर्म होने के कारण यह शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है।

8. एसिडिटी
एसिडिटी, खांसी, खट्टी डकार, गले में इंफेक्शन को दूर करने के लिए एक कप पानी में काली मिर्च, नींबू का रस, ½ टीस्पून काला नमक मिलाकर गर्म पानी के साथ पी लें।

ये भी पढ़े: अगर इन जगहों पर घूमने जा रहे है तो न करें ये गलतियां!

9. ब्लड प्रैशर
दिन में 2 बार काली मिर्च को 21 किशमिश दानों के साथ भून के खाने से लो ब्लड प्रैशर की समस्या दूर हो जाती है।

10. फोड़े-फुंसी
फोड़े-फुंसी, दाद-खाज, खुजली, स्किन इंफेक्शन और दाग-धब्बे की समस्या को दूर करने के लिए काली मिर्च को पीसकर घी में मिलाकर लगा लें।

Facebook Comments

You may also like

इस राशि के मर्द अपनी बीवी को रखते है एक दम महारानी की तरह

लडकी का सपना होता है कि एक दिन