बड़ी धूमधाम से मनाया जाएगा जश्न-ए-आजादी समारोह

- in उत्तरप्रदेश, लखनऊ

तीन दिनों तक विभिन्न कार्यक्रमों का होगा आयोजन

लखनऊ। विगत वर्षों की भाँति इस वर्ष भी जश्न-ए-आजादी समिति द्वारा राष्ट्रभक्ति और देश प्रेम से प्रेरित कार्यक्रमों का आयोजन 13 से 15 अगस्त तक लखनऊ शहर के अलग-अलग स्थानों किया जायेगा। इस आशय की घोषणा आज रॉयल होटल में आयोजित समिति के सदस्यगणों की बैठक के उपरान्त अध्यक्षा निगहत खान द्वारा की गई। इस बैठक में अल्प संख्यक आयोग के सदस्य परमिन्दर सिंह, मौलाना खालिद रशीद, समिति के महामंत्री मुरलीधर आहूजा, उ.प्र. जिला मान्यता प्राप्त पत्रकार ऐसोसिएशन के अध्यक्ष व साहित्यकार पं. हरि ओम शर्मा ‘हरि’, ऐसोसिएशन के महामंत्री अब्दुल वहीद एवं सचिव जुबेर अहमद, कवि सर्वेश अस्थाना, पत्रकार सुशील दुबे, फादर पॉल रोड्रिग्स, काँग्रेस नेता सिराज मेंहदी, सरदार निर्मल सिंह आदि उपस्थित थे।

इस अवसर पर समिति के महामंत्री मुरलीधर आहूजा ने बताया कि आजकल हमारे राष्ट्रीय पर्व मात्र एक अवकाश बनकर रह गए हैं जबकि इस राष्ट्रीय त्योहार का उत्सव बड़े ही जोर-शोर से मनाना चाहिए। इसी भावना के साथ समिति ने तीन दिनों तक लगातार ‘स्वतन्त्रता दिवस’ का उत्सव मनाने का आह्वान किया है। आहूजा ने बताया कि इस उत्सव के तहत 13 अगस्त, सोमवार को प्रातः 10ः00 बजे से ‘स्वैच्छिक रक्तदान शिविर’ दशमेश मेडिकल चैरिटेबल हॉस्पिटल, आलमबाग गुरुद्वारा में लगाया जाएगा जबकि दशमेश पब्लिक स्कूल, आलमबाग गुरुद्वारा में स्कूली छात्रों व क्षेत्रीय नागरिकों के लिए ‘निशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर’ भी आयोजित किया जायेगा। इन कार्यक्रमों का मार्गदर्शन डा. राजेश मेहता एवं आलम बाग गुरुद्वारा के कार्यवाहक अध्यक्ष सरदार निर्मल सिंह एवं अवध अस्पताल के प्रबंध निदेशक श्री सत्येंद्र भावनानी करेंगे।

जश्न-ए-आजादी समिति के सदस्य पं. हरि ओम शर्मा ‘हरि’ ने बताया कि आजादी की पूर्व संध्या पर 14 अगस्त, मंगलवार को सायं 7ः00 से 1090 चौराहा, गोमती नगर पर कवि सम्मेलन, गजल, आर्केस्ट्रा प्रोग्राम एवं विभिन्न संगठनों द्वारा देशभक्ति गीतों का कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा। इसके उपरान्त स्वतंत्रता दिवस की 72 मी वर्षगांठ के उपलक्ष्य में 72 किलो का महालड्डू मध्य रात्रि 12ः00 बजे बैंड-बाजों के साथ वितरित करके जोर-शोर से आजादी का जश्न मनाया जाएगा। 15 अगस्त, बुधवार को स्वतंत्रता दिवस के दिन प्रातः 11ः00 बजे से एक ऐतिहासिक स्कूटर-बाइक रैली निकाली जाएगी जो प्रातः 11ः00 बजे निकाली जायेगी और अपरान्हः 1.00 बजे हजरतगंज पुरानी कोतवाली के सामने पहुँचकर झंडारोहण किया जाएगा। इस अवसर पर शान्ति के प्रतीक 11 कबूतरों को उड़ाया जाएगा। कार्यक्रमों के समापन के उपरान्त 16 अगस्त को एक विशेष दल लखनऊ के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर कागज व प्लास्टिक के झंडों को एकत्रित करेगा और उन्हें सम्मान के साथ यथा स्थान पर रखा जाएगा।

Patanjali Advertisement Campaign

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

24 को अटल जी की अस्थियों का होगा प्रदेश भर की सभी नदियों में विर्सजन

लखनऊ। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां गुरुवार