बड़ा धामाका कर सकती है हाफ गर्लफ्रेंड प्रथम दिन दस करोड़ के पार…

फिल्म का नाम: हाफ गर्लफ्रेंड
डायरेक्टर: मोहित सूरी
स्टार कास्ट: अर्जुन कपूर, श्रद्धा कपूर, विक्रांत मस्सी, रिया चक्रवर्ती, सीमा बिस्वास
अवधि: 2 घंटा 15 मिनट
सर्टिफिकेट: U/A
रेटिंग: 2 स्टारहाफ गर्लफ्रेंडराइटर चेतन भगत की नॉवेल पर ‘हैलो’, ‘काय पो चे’, ‘3 इडियट्स’, और ‘2 स्टेट्स’ जैसी फिल्में बनाई गई हैं, जिसमें कई सक्सेसफुल भी रही हैं. एक बार फिर से चेतन की नॉवेल ‘हाफ गर्लफ्रेंड’ पर आधारित इसी नाम की फिल्म बनायी गई है, जिसमें बिहार के लड़के और दिल्ली की लड़की की दास्तान को बयां किया गया है. फिल्म को ‘आशिकी 2’ और ‘एक विलेन’ जैसी हिट फिल्म देने वाले मोहित सूरी ने डायरेक्ट किया है. जानते हैं कैसी बनी है यह फिल्म और कैसी है फिल्म की कहानी:

कहानी:
यह कहानी बिहार के बक्सर जिले के डुमरांव गांव के रहने वाले माधव झा (अर्जुन कपूर) की है जो गांव से दिल्ली शहर में पढ़ाई करने के लिए जाता है और वहां उसकी मुलाकात अमीर घराने की लड़की रिया सोमानी (श्रद्धा कपूर) से होती है. माधव और रिया दोनों को ही बास्केटबॉल बहुत पसंद है. बास्केटबॉल कोर्ट पर ही दोनों की मुलाकातें होने लगती हैं. माधव को अंग्रेजी नहीं आती जिसकी वजह से उसका बार-बार मजाक उड़ाया जाता है. माधव का दोस्त शैलेश (विक्रांत मस्सी) हमेशा उसका साथ देता है.

यह भी पढ़े: विजय माल्या जैसे भगोड़ों पर होगी सख्त कार्रवाई, पीएम मोदी ने किया कड़े कानून का प्रस्ताव

एक दिन कुछ ऐसा होता है, जिसकी वजह से माधव और उसकी हाफ गर्लफ्रेंड रिया में अलगाव हो जाता है. इस वजह से माधव अपने गांव वापस आ जाता है और रिया कहीं दूर निकल जाती है. फिर कहानी में ट्विस्ट और टर्न्स आते हैं और एक बार फिर से माधव और रिया की मुलाकात अलग परिस्थिति में होती है. कहानी फिर लंदन तक भी पहुंचती है और इसे अंजाम मिलता है.कमजोर कड़ियां:
फिल्म की कहानी काफी कमजोर सी है. स्क्रीनप्ले बहुत ही ठंडा है जिस पर काम किया जा सकता था. जो बात चेतन भगत की 2 स्टेट्स और 3 इडियट्स जैसी फिल्मों में थी, वो यहां बिल्कुल देखने को नहीं मिलती है.
फिल्म के संवाद भी काफी कमजोर है और रोमांस, ड्रामा में भी कुछ खास बात नहीं है. किसी भी रोमांटिक फिल्म को देखते वक्त इंसान उसमें खो जाना चाहता है, लेकिन इस फिल्म के दौरान कुछ ऐसा फील नहीं हो पाता है, जो कि स्क्रीनप्ले की कमी है.
कहानी बांध पाने में असफल है और कौन सा किरदार आखिरकार क्या करना चाह रहा है यह बता पाने में मेकर असमर्थ रहे हैं.
फिल्म का गाना ‘फिर भी तुमको चाहूंगा’ लोगों को याद रह सका है. मोहित सूरी की फिल्मों का सबसे बड़ा इक्का उनका संगीत होता है, जिसे और भी बेहतर किया जा सकता था. क्यों देखें फिल्म:
फिल्म में अर्जुन कपूर ने बिहारी लड़के का किरदार बखूबी निभाया है. वो किरदार में रमे हुए नजर आते हैं. वहीँ श्रद्धा कपूर ने भी ठीक ठाक काम किया है. विक्रांत मस्सी का काम सहज है और फिल्म के बाकी कलाकारों ने भी अच्छा काम किया है. साथ ही फिल्म की लोकेशंस बढ़िया है. दर्शकों को दिल्ली के साथ-साथ न्यूयॉर्क भी फिल्म में देखने को मिलेगा. विजुअल के हिसाब से फिल्म अच्छी है और साथ ही बैकग्राउंड स्कोर भी कमाल का है.बॉक्स ऑफिस:
फिल्म की लागत लगभग 35 करोड़ बताई जा रही है और खबरों के मुताबिक इसके डिजिटल, सैटेलाइट और ओवरसीज राइट्स पहले ही बेचे जा चुके हैं. अब देखना काफी अहम होगा कि यह फिल्म कितने स्क्रीन्स में रिलीज की जाएगी क्योंकि पहले से ही ‘बाहुबली 2’ काफी स्क्रीन्स लिए हुए है और उसके डिस्ट्रीब्यूटर एए फिल्म्स के विकी थडानी इस हफ्ते रिलीज हो रही फिल्म ‘हिंदी मीडियम’ को डिस्ट्रीब्यूट कर रहे हैं. इस कारण हाफ गर्लफ्रेंड को स्क्रीन्स की दिक्कत हो सकती है.

loading...
=>

You may also like

बिग बॉस 11 की पहली कंटेस्टेंट होगी ये विदेशी मॉडल

ऑफिशियल ट्विटर पेज पर दो कंटेस्टेंट की झलक