ब्रह्मपुत्र का पानी रोके जाने पर लाखों भारतीयों ने किया चाइनीज सामान न प्रयोग करने का प्रण

भारत द्वारा पाकिस्तान पर कड़ी कार्यवाई करना चीन को भी नागवार गुजर रहा है. इसीलिये उसने पाकिस्तान का पक्ष लेते हुए ब्रह्मपुत्र नदी का पानी बंद कर दिया और आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा आतंकवादी घोषित करवाने के प्रयास पर लगाईं गई तकनीकी रुकावट आगे बढ़ा दी गई है । china

चीन की तरफ से लगाईं गई तकनीकी रोक की मियाद सोमवार को पूरी हो रही थी और अगर चीन ने आपत्ति न उठाई होती तो अजहर को आतंकी घोषित करवाने का प्रस्ताव स्वतः पास हो गया होता । अब चीन की रोक छे महीने के लिए बढ़ा दी गयी है । सुरक्षा परिषद् के पंद्रह देशों में चीन इकलौता देश है जिसने अजहर को आतंकी घोषित करने का विरोध किया ।

चीन के इन कारनामों  से  देश की जनता में आक्रोश बढ़ता जा रहा है । आज फरीदाबाद सहित कई जगहों पर चीन के खिलाफ प्रदर्शन किया गया उसके उत्पादों के बहिस्कार कर उसे सबक सिखाने का प्रण लिया गया । दोपहर जब पता चला कि चीन ने भारत का पानी रोक दिया है तो देश के लाखों लोगों ने चीनी उत्पाद न प्रयोग करने प्रण लिया । सोशल मीडिया पर लाखों लोग कम्मेंट कर रहे हैं कि अब पाकिस्तान की तरह चीन को भी सबक सिखाया जाये और अगर उसके उत्पादों को बंद कर दिया गया तो उसे उसकी औकात पता चल जाएगी ।

न्यूज़मंथन .कॉम से साभार 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button