बेहद खतरनाक हैं कोरोना की दूसरी लहर, इसके संक्रमण से…

देश में जानलेवा कोरोना वायरस की दूसरी लहर चल रही है, जो बेहद खतरनाक साबित हो रही है. देश में पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 59 हजार 118 नए मामले सामने आए हैं. जो 12 अक्टूबर 2020 के बाद सबसे ज्यादा हैं. कल देश में 257 लोगों की मौत भी हुई है. बड़ी बात यह है कि देश में टीकाकरण चल रहा है और अबतक वैक्सीन की 5 करोड़ 55 लाख 4 हजार 440 डोज दी जा चुकी हैं. जानिए कोरोना की दूसरी लहर से जुड़ी कुछ जरूरी बातें.

नवंबर में कंट्रोल में आया था कोरोना, लेकिन अब कंट्रोल से बाहर!

पिछले साल नवंबर में कोरोना वायरस के दैनिक मामले काफी हद तक कंट्रोल में आ गए थे. लेकिन अब दूसरी लहर में हर दिन रिकॉर्ड बढ़ोतरी हो रही है, जो बेहद चिंता की बात है. कोरोना को लेकर हालात बिगड़ते देखकर केंद्र सरकार लगातार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ मिलकर काम कर रही है.

संक्रमण के नए मामले 66 फीसदी बढ़े

गौर देने वाली बात यह है कि मई 2020 के बाद पहली बार इतनी तेजी से संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं. 10 मई के बाद कोरोना वायरस के हर हफ्ते बढ़ते मामलों की दर में सबसे बड़ी उछाल देखने को मिल रही है. मई में रोजाना करीब साढ़े तीन हजार मामले सामने आ रहे थे. लेकिन आज एक दिन में ही मामले 60 हजार पहुंच गए हैं.

25 मार्च तक के आंकड़ों के मुताबकि, भारत में एक हफ्ते में औसतन 47 हजार 442 नए मामले आ रहे थे. लेकिन अब संक्रमण के नए मामले 66 फीसदी बढ़ गए हैं. इसका सीधा मतलब है कि कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण कई गुणा तेजी से फैलता जा रहा है.

देश में सबसे बुरी हालत महाराष्ट्र की

देश में सबसे बुरी हालत महाराष्ट्र की है, जहां से 60 फीसदी से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. वहीं, करीब 75 फीसदी एक्टिव केस सिर्फ तीन राज्य महाराष्ट्र, पंजाब और केरल में हैं. देश के कुल एक्टिव केस के 63 फीसदी केस अकेले महाराष्ट्र में है. केरल में 6.22% और पंजाब में 5.19% है. पिछले 24 घंटो में सामने आए नए कोरोना संक्रमण के मामलों में से करीब 81 फीसदी मामले 6 राज्यों से सामने आए हैं. ये राज्य हैं महाराष्ट्र, पंजाब, केरल, कर्नाटक, छत्तीसगढ़ और गुजरात. सबसे ज्यादा नए संक्रमण के मामले महाराष्ट्र में सामने आए हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कुल वैक्सीन की 60 प्रतिशत खुराक आठ राज्यों केरल, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, गुजरात, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और महाराष्ट्र में दी गई है. दिल्ली, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र, गुजरात, पंजाब, मध्य प्रदेश समेत दस राज्यों में रोज संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं.

100 दिनों तक चल सकती है कोरोना की दूसरी लहर

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि भारत फरवरी से कोविड-19 के नए मामलों में तेजी देख रहा है और दूसरी लहर की तरफ स्पष्ट रूप से इंगित करता है. अगर 15 फरवरी से गणना की जाए तो कोरोना की दूसरी लहर 100 दिनों तक चल सकती है. रिपोर्ट में कहा गया है कि 23 मार्च के रुझानों के आधार पर भारत में दूसरी लहर में कोरोना वायरस के मामलों की कुल संख्या लगभग 25 लाख होने की उम्मीद है.

भारत में अलग-अलग वैरिएंट्स के 771 मामले

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच एक चिंता वाली बात ये भी है कि अब कोरोना के नए म्यूटेंट के केस भारत में मिले हैं. राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा शेयर किए गए कुल 10,787 पॉजिटिव नमूनों में वैरिएंट ऑफ कंसर्न (वीओसी) के 771 मामले मिले हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इनमें यूके (बी.1.1.7) वैरिएंट के 736 मामले, दक्षिण अफ्रीका (बी.1.351) के 34 मामले और ब्राजील (पी.1) वैरिएंट का एक मामला शामिल है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, “इन वीओसी के जरिए भारत में एक नया डबल म्यूटेंट वैरिएंट पाया गया है. इस तरह के म्यूटेंट प्रतिरक्षा कम करते हैं और संक्रामकता में वृद्धि करते हैं. यह वैरिएंट यूके, डेनमार्क, सिंगापुर, जापान और ऑस्ट्रेलिया समेत 16 देशों में मिल चुका है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button