बुरे समय से चाहते हैं निजात तो सुबह उठते ही करें ये काम

- in धर्म

अगर बुरा समय आपका पीछा नहीं छोड़ रहा है, अगर आपको भी ऐसा लग रहा है कि मेहनत करने के बाद भी आपको मन मुताबिक फल नहीं मिल पा रहे हैं,

अगर आपका बुरा समय चल रहा है और भाग्य आपका साथ नहीं दे रहा है, अगर आपके बनते हुए काम बिगड़ रहे हैं.

अगर आप भरसक प्रयास के बाद भी मंज़िल नहीं पा रहे हैं तो इसकी वजह आपकी कुंडली भी हो सकती है।

बुरा समय –

जी हां, कुछ लोग इन बातों पर विश्वास करते हैं तो वहीं कुछ इन्हे सिरे से नकारते हैं लेकिन कही ना कही हमारी कुंडली के दोषों का असर हमारी ज़िदंगी पर पड़ता है। हमारी कुंडली में ग्रह किस स्थिति में हैं, कौन सा ग्रह किसके साथ मिलकर क्या योग बना रहा है, ये सभी बातें हमारे जीवन को प्रभावित करती हैं।

इसके अलावा हमारे अच्छे-बुरे कर्म भी हमारे जीवन को प्रभावित करते हैं।लेकिन बहुत ही सरल तरीकों से हम इन दोषों को दूर कर सौभाग्य और समृध्दि को प्राप्त कर सकते हैं।

आज हम यहां आपको ऐसे ही कुछ तरीकों से बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप दुर्भाग्य को दूर कर सकते हैं। अगर बुरा समय आपका पीछा ही नहीं छोड़ रहा है तो आपको रोज़ सुबह उठकर सप्तऋषियों के नामों का जप करना चाहिए, इससे जल्द ही आपको अपने जीवन में परिवर्तन महसूस होगा।

ऋषि विश्वामित्र, ऋषि वशिष्ठ, ऋषि अत्रि, महर्षि गौतम, ऋषि  जमदग्नि, ऋषि भारद्वाज, ऋषि कश्यप तो सप्त ऋषि कहा जाता है। इन्हे ब्रह्म ऋषि की उपमा भी दी गई है। कईं धार्मिक ग्रन्थों में इनकी महिमा का गुणगान है।

ऐसा कहा जाता है कि इन सप्त ऋषियों ने भगवान शिव के आशीर्वाद से धरती पर संतुलन बनाए रखने का ज़िम्मा लिया था। इन सभी ऋषियों को सृष्टि से रचयिता ब्रह्मा जी का पुत्र माना गया है। ये सभी ऋषि परमज्ञानी हैं और कईं मंत्रों, वेदों, श्लोको और ग्रंथों के रचयिता है। इन ऋषियों की महिमा अपरंपार है।

ऐसा माना जाता है कि अगर कोई व्यक्ति सुबह उठकर इन सभी सप्त ऋषियों के नाम लेता है, पूरी श्रध्दा और शान्त मन के साथ इनके नाम का जप करता है तो उसे समस्त सुखों को प्राप्ति होती है और दुर्भाग्य भी उससे दूर रहता है। सुबह उठकर स्नान आदि करने के बाद इन सप्तऋषियों का नाम लेते हुए भगवान से अपने बुरे वक्त को दूर करने की प्रार्थना करें।

तो अगर आप भी अपने बिगड़े कामों को बनाना चाहते हैं, अपनी किस्मत को संवारना चाहते हैं, बुरे समय से निजात पाना चाहते हैं, और अपने जीवन में सकारात्मक बदलाव लाना चाहते हैं तो आज से ही सुबह उठते ही सप्त ऋषियों के नाम का जप करें। जल्द ही आपका बुरा समय दूर होगा। इस जानकारी को अपने दोस्तों से साथ भी शेयर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

गणेश चतुर्थी: इन चीजों के बिना अधूरी है भगवान गणेश जी की पूजा, नहीं किया तो अभी समय है

13 सितंबर से पूरे हिंदुस्तान में गणेश चतुर्थी