बिजली बिल माफ़ी पर ट्वीट कर ऐसे फंस गए ज्योतिरादित्य सिंधिया

जुबली न्यूज़ डेस्क
मध्यप्रदेश उपचुनाव में भाजपा का चेहरा बने ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने एक ट्वीट को लेकर ट्रोल हो रहे हैं। लोग सवाल पूछ रहें हैं कि, महाराज को सीएम शिवराज सिंह चौहान के निर्णय की जानकारी नहीं है या फिर वो जनता को गुमराह कर रहे हैं.
दरअसल मामला ये है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्विटर अकाउंट पर बताया कि मप्र सरकार ने COVID19 आपदा के मद्देनजर एक किलोवाट तक के घरेलू बिजली उपभोक्ताओं के 31 अगस्त तक के बिजली बिल माफ करने का निर्णय लिया है। आम जनता के हित मे लिए गए इस निर्णय के लिए मैं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी का हृदय से आभार व्यक्त करता हूँ।
यह भी पढ़ें : पंचायत चुनाव: 2 से ज्यादा हैं बच्चे तो नहीं लड़ पाएंगे चुनाव!
चुनाव बाद शुरू की जाएगी बिजली बिल की वसूली
बता दें कि कोरोनावायरस के संक्रमण के नाम पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्णय लिया है कि 1 अप्रैल से 31 अगस्त 2020 तक यदि किसी बिजली उपभोक्ता ने बिजली बिल नहीं चुकाया तो उसका कनेक्शन काटा नहीं जाएगा बल्कि उसकी बकाया रकम को उधारी खाते में लिख लिया जाएगा। सितंबर और अक्टूबर यानी उप चुनाव तक उपभोक्ता को उसके बिजली बिल में बकाया राशि प्रदर्शित नहीं की जाएगी। इसका तात्पर्य हुआ कि बिजली बिल माफ नहीं किया है बल्कि आगामी 2 महीने तक बकाया वसूली पर रोक लगा दी गई है। चुनाव बाद वसूली शुरू की जाएगी।
विशाल नाम के एक यूजर ने लिखा कि, सच्चाई तो ये है कि लोगों को बेवकूफ बनाना बंद करो

Sacchai to ye hai logo ko Bewkoof banana band karo.. pic.twitter.com/4B3c2jkbFx
— ViSHAL (@ViSHAL38956423) August 29, 2020

यह भी पढ़ें : विदेशी लड़के- लड़कियां लॉकडाउन में करते थे पार्टी, हो गए अरेस्ट
यह भी पढ़ें : रिलायंस के इस कदम से बच गई हजारों परिवार की रोजी-रोटी

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button