Home > जीवनशैली > खाना -खजाना > बनाए मुंग दाल का मसाला डोसा…

बनाए मुंग दाल का मसाला डोसा…

साउथ इंडियन खाना किसे नहीं पसंद और जब भी साउथ इंडियन डिश का नाम लिया जाए तो सबसे पहला नाम आता है डोसा !! जो सभी को काफी पसंद है बच्चो से लेकर बड़ो तक सबका पसन्दीदा साउथ भोजन है यह.बनाए मुंग दाल का मसाला डोसा...

कभी भी हमारी इच्छा होजाती है तो हम यह सोचते है की बनाया कैसे जाए हमे तो यह बनाना आता ही नहीं है चलिए हम आपको बताएंगे की डोसा कैसे बनता है.

आवश्यक सामाग्री- चावल-100 ग्राम

मुंग दाल 50 ग्राम

चने की दाल -1 चम्मच

मेथी दान- 1 चोट चम्मच

बेकिंग सोडा- एक चुटकी

नमक- स्वदानुसार

भरावन की सामग्री- 4 आलू उबले हुए

-1 प्याज़ बारीक़ कटा हुआ

– 50 ग्राम मटर उबला हुआ

– 1 बड़ा टमाटर बारीक़ कटा हुआ

– 2 हरी मिर्च बारीक़ कटी हुई

– थोड़ा सा हरा धनिया बारीक़ कट हुआ

– 1/2 चम्मच हल्दी पाउडर -1/2 लाल मिर्च पाउडर

-1 छोटा चम्मच आमचूर – 2 लाल मिर्च

-1 चम्मच सरसो के दाने

-4 करी पत्ते -50 ग्राम तेल

– नमक स्वदानुसार

विधि- मुंग दाल मसाला डोसा का पेस्ट बना ले। मुंग दाल मेथी दाना चना दाल को बीनकर साफ पानी में धोकर रात भर पानी में रख दे। सुबह भीगे हुए मिश्रण से पानी निकालकर उसे मिक्सी में पीस लीजिये और पेस्ट बना लीजिए। घोल और पेस्ट को किसी ढक्कन दार बर्तन में निकाल ले। खमीर उठाने के लिए इस पेस्ट को ढक्कन से बंदकर किसी गरम जगह या धुप में 10 घंटे के लिए रख दीजिए।

भरावन के लिए विधि- आलू को मैश कर लीजिए।

– कढ़ाही में तेल डालकर सारा मसाला डालकर भरावन की सामग्री डालकर मैश कर लीजिए।

-फिर गेस बंद कर उसके 10 मिनिट बाद धनिया डाल दीजिए। हो गया मसाला तैयार।

मुंग दाल मसाला डोसा बनाने के लिए- सबसे पहले घोल को चलाए, अगर खमीर गाढ़ा लगे तो उसमे थोड़ा पानी डाल दे।

– नॉन स्टिक पैन को गरम कर उस में कच्चा प्याज या आलू किसकर डाले।

-इसके बाद थोड़ा पानी डालकर सूती साफ कपडे से साफ़ करे।

-अब एक कटोरी में डोसे के घोल को लीजिए।

– तवे पर डाल कर अच्छे से गोल गोल पतला पतला फैलाए।

– डोसे के चारो और थोड़ा तेल डाले ताकि वह चिपके नहीं।

– जब डोसा सुनहरा हो जाए तो उसपर भरावन की सामग्री डाल कर थोड़ा थोड़ा मोड़े।

-अब इसे प्लेट में निकाल ले। और सर्व करे।

Loading...

Check Also

उन दिनों में होती है गड़बड़ तो आती है ऐसी परेशानियां होे जाये सावधान…

महिलाओं में मासिक धर्म भी शुरू हो जाते हैं जिसके कारण उन्हें सबसे ज्यादा परेशानी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com