बढ़ते अपराध पर सदन में बोले सीएम योगी, कहा- सख्ती से होगा अपराधियों पर प्रहार

उत्तर प्रदेश में बढ़ते अपराध को लेकर विधानसभा में सीएम योगी अपनी राय रखी. उन्होंने कहा कि सूबे में अपराधियों को कतई नहीं बख्शा जाएगा. सीएम ने सदन को बताया कि अपराधियों से निर्ममता से निपटा जाएगा. इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कानून-व्यवस्था को लेकर सरकार के लिए कई सवाल खड़े किए थे.बढ़ते अपराध पर सदन में बोले सीएम योगी

उन्होंने कहा कि अपराधियों की पुरानी आदतें जल्दी छूटने वाली नहीं है, लेकिन अपराधी उत्तर प्रदेश में अपना भविष्य खुद तय करें. योगी ने फिर दोहराया कि किसान, व्यापारी और बेगुनाहों के खिलाफ अन्याय कतई बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे. 

उत्तरप्रदेश के मथुरा में सोमवार की रात सरे बाजार हुए लूट और हत्या की घटना के विरोध में शुक्रवार को सूबे के ज्वैलर्स हड़ताल जारी है. सर्राफा व्यापारियों की मांग है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सभी ज्वैलर्स की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए. इसके अलावा योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को ही विधानसभा में कानून-व्यवस्था पर जवाब दे सकते हैं. आपको बता दें कि मथुरा में लूट के बाद दो व्यापारियों की हत्या कर दी थी.

ये भी पढ़े: यूपी के सिर्फ छह गांव बचे, जहां बिजली नहीं पहुंची, बिहार में 319 बाकी…

अखिलेश का योगी सरकार पर करारा वार

शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यूपी विधानसभा में कानून व्यवस्था का मुद्दा उठाया. अखिलेश यादव ने अपने भाषण के दौरान एंटी रोमियो दल का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि दिनेश शर्मा शिक्षक भी रहे है पढ़ाया भी होगा. बताएं कि रोमियो कौन था. अखिलेश बोले कि अगर Romeo की बात इंग्लैंड तक पंहुच जाती तो नेता सदन को जबाब देना पड़ता. रोमियो तो शरीफ था.

गाय ही रास्ता दिखाती है

अखिलेश बोले कि मुझे तो पता ही नहीं था कि हमारे नेता अधिकारी इतना अच्छा झाडू लगाते है. उन्होंने कहा कि मैं बुंदेलखंड गया था वहां सिर्फ अन्न गाय दिखाई दी, गाय ही हमें रास्ता दिखा रही थी, सभी सड़कों और डिवाइडर पर गाय ही दिखाई दी थी. अखिलेश ने कहा कि बताओ गाय की वजह से आदमी की जान ले ली.

100 नंबर हम लाये, सबसे बेहतरीन है

अखिलेश यादव ने अपने भाषण के दौरान कहा कि गोवा की भी जानकारी दे, वहां गौ को लेकर आपकी क्या नीति है. राज्य सरकार आप नफरत फैलाना चाहते हैं. अखिलेश ने कहा कि कानून व्यवस्था पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. 100 नंबर लागू करना कितना मुश्किल था, मै तो कहता हूं कि सरकार के लोग 100 नंबर जाकर देखें. 100 नंबर सबसे बेहतरीन सिस्टम है, ये आपके भी घोषणा पत्र में है. ये जो भी हम समाजवादियों का किया हुआ है.

मुथरा मामले में फेल हुई सरकार

अखिलेश ने मथुरा कांड का मुद्दा उठाते हुए कहा कि यह सरकार कानून व्यवस्था पर ये पिछड़ गई है, मथुरा को आप नहीं सभाल पा रहे है. हमारी सरकार की याद मत दिलाना, ये आपकी सरकार है.

हमारे घर हैं बहुत गाय

उन्होंने दिनेश शर्मा से पूछा कि बताओ कि मै हिंदू हूं कि नहीं, आप अपने घर को भगवा रंग में रंगवाते हो तो हिंदू हो गए, अगर आपको गाय देखना हो तो हमारे घर आकर देखो, कितनी गाय हैं. लखनऊ का एक्सप्रेस-वे देश का सबसे बेहतरीन एक्सप्रेस-वे है, पीएम इससे बेहतरीन सड़क नहीं बना सकते क्योंकि उनके पास वक्त नहीं है. रिवर फ्रंट की जितनी चाहे जांच करा ले लेकिन जबतक शहरों की नदियां पर रिवर फ्रंट नहीं बनेगा तबतक नदी साफ नहीं होगी.

सर्राफा व्यापारियों की हड़ताल से पूरे प्रदेश में करोड़ों का घाटा होने की संभावना है. अकेले लखनऊ में ही लगभग 3000 ज्वैलर्स हड़ताल पर रहेंगे, जिससे लगभग 12 करोड़ का घाटा हो सकता है. पूरे प्रदेश में करीब 1.5 लाख ज्वैलर्स हड़ताल करेंगे.

गौरतलब है कि बुधवार को पीड़िता परिवार से मिलने पहुंचे मथुरा से विधायक और कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा था कि हमारी पूरी कोशिश है कि ऐसी घटना दोबारा न हो. पूरे शहर में जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगेंगे. पुलिस पेट्रोलिंग बढ़ाई जाएगी. सरकार इस घटना को लेकर बहुत संवेदनशील है. पूरी रिपोर्ट सीएम योगी आदित्यानाथ को दी जाएगी.

श्रीकांत शर्मा का हुआ था विरोध

इससे पहले कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा और डीजीपी सुलेखान सिंह को पीड़ित परिवार के गुस्से का सामना करना पड़ा था. पीड़ित परिजनों का कहना था कि वे लोग पुलिस को फोन करते रहे, लेकिन समय पर मौका-ए-वारदात पर कोई नहीं पहुंचा. इतना ही नहीं लोगों ने मंत्री खूब खरी खोटी सुनाई. इसके बाद मंत्री और डीजीपी ने न्याय का भरोसा दिलाया.

loading...
=>

You may also like

बदमाशों ने की ढाई मिनट में 70 लाख की लूट, किये छह राउंड फायरिंग

नई दिल्ली.एनसीआर के करावलनगर थाना क्षेत्र में सोमवार को