बड़े ऑपरेशन की तैयारी में भारत, सर्जिकल स्ट्राइक के नायक को मिली अहम जिम्मेदारी

- in राष्ट्रीय

नई दिल्ली । सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए करीब 2 साल पहले पाकिस्तान को उसी की धरती पर सबक सिखाने का खुलासा करने वाले लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने भारतीय सेना में अहम जिम्मेदारी संभाल ली है, जिसमें जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद का खात्मा भी शामिल है। पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान डीजीएमओ रहे लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने शुक्रवार को सेना की सबसे महत्वपूर्ण उत्तरी कमान की कमान संभाल ली है। ले.ज. रणबीर सिंह ने ही उस टीम की अगुआई की थी जिसने पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था। रणवीर उस वक्त सेना की मिलिट्री ऑपरेशन टीम के प्रमुख यानि डायरेक्टर जनरल मिलिट्री ऑपरेशंस थे।बड़े ऑपरेशन की तैयारी में भारत, सर्जिकल स्ट्राइक के नायक को मिली अहम जिम्मेदारी

गौरतलब है कि सेना की नादर्न कमांड इकलौती ऐसी कमांड है जो पाकिस्तान और चीन की सीमा पर किसी भी हालात से निबटने के लिए सबसे आगे होती है। यही कमांड पाकिस्तान सीमा पर एलओसी और चीन की सरहद पर पर तैनात रहती है।

लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अंबु के स्थान पर नियुक्त हुए हैं। लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अंबु को थल सेना का उपप्रमुख नियुक्त किया गया है।

ले. जनरल रणबीर की पहली पोस्टिंग 9 डोगरा रेजीमेंट में हुई। डीजीएमओ के बाद लेफ्टिनेंट जनरल रणवीर सिंह को प्रमोशन देकर स्ट्राइक 1 कोर का कमांडर बनाया गया था। सेना की स्ट्राइक 1 कोर देश के तीन हमलावर बलों में से एक है जिसका मुख्यालय मथुरा में है। सेना की यह कोर शॉर्ट नोटिस पर भी पाकिस्तान के भीतर घुसकर हमला करने के लिए हमेशा तैयार रहती है। जालंधर में पैदा हुए रणबीर सिंह ने प्रारंभिक शिक्षा कपूरथला के सैनिक स्कूल की है। उसके बाद 1980 में भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून के लिए चुने गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ट्रिपल तलाक पर अध्यादेश लाएगी केंद्र सरकार, कैबिनेट ने दी मंजूरी

नई दिल्ली : देश में तीन तलाक के बढ़ते हुए