प्रधानों को विधायकों से अधिक मिलती है विकास राशि : सीएम योगी

- in उत्तरप्रदेश, लखनऊ

हरदोई । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज हरदोई में 279 ग्राम प्रधानों के साथ संवाद के दौरान उनको नसीहत भी दी। रसखान प्रेक्षागृह में मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्राम प्रधान ही सही मायने में किसी भी देश व प्रदेश के विकास की नींव होते हैं। उनको तो विधायकों से भी अधिक विकास की राशि मिलती है। उसका सदुपयोग करें और गांव को खुशहाल बनाएं।प्रधानों को विधायकों से अधिक मिलती है विकास राशि : सीएम योगी

मुख्यमंत्री ने प्रधानों को विकास का पाठ पढ़ाते हुए कहा कि प्रधान को गांव के विकास के लिए विधायक से भी ज्यादा धनराशि मिलती है बस उसका सही तरह से सदुपयोग किया जा सके। प्रधानों के साथ संवाद में मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्रदेश को पूरी तरह से अपराधमुक्त करने के अभियान में लगी है। समाज के अपराध मुक्त होने से ही जिले, प्रदेश व देश में खुशहाली आएगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गांव की सरकार की मजबूती पर जोर दिया। 

उन्होंने कहा कि जब गांव विकसित होंगे, तभी देश विकासित हो सकेगा। उन्होंने गांव में पंच परमेश्वर की आवधारणा साकार करने पर बल दिया। सीएम ने कहा कि गांव की पंचायत में ही छोटे-छोटे मामलों का निस्तारण कर लिया जाए ताकि पुलिस और कचहरी के चक्कर न लगाने पड़े। 

हरदोई के रसखान प्रेक्षागृह में ग्राम स्वरोजगार अभियान के अंतर्गत एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने प्रधानों को संबोधित करते हुए कहा कि गांव की समितियों को मजबूत किया जाए। उन्होंने कहा कि गांव की गठित सभी छह समितियों को मजबूत किया जाए। ताकि समुचित रूप से विकास हो सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब गांव खुशहाल होंगे तो अपराधों में भी कमी आएगी और प्रदेश व देश भी खुशहाल होगा। गांवों को 14 वें वित्त आयोग में ग्राम पंचायतों में केंद्र से सीधे उनके खातों में पर्याप्त धनराशि भेजी जाती है। विधायक को तो निश्चित निधि मिलती है लेकिन प्रधानों को गांव की आवादी के हिसाब से धनराशि मिलती है और उसका सही तरह से नियोजन करें तो विधायक से अधिक प्रधान काम करवा सकते हैं। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में सभी योजनाएं पूरी हो रही है, उनका लोकार्पण शिलान्यास होना है। ग्राम स्वराज योजना के तहत काम करना था। आज इस योजना के तहत नरेंद्र मोदी की स्पष्ट मंशा है कि अंतिम पायदान पर खड़े लोगों को लाभ पहुंचे। पहले योजनाएं बनती थी लेकिन पात्रों तक नही पहुंचती थी जिससे लोगों शिकायत रहती थी। हरदोई प्रदेश का दूसरा जनपद है जिसमे 268 गांव चयनित है। विकास की योजनाओं का सदुपयोग होना चाहिए, इसके लिए ग्राम पंचायत की छह समितियों का गठन किया गया है। विकास की योजनायें क्रियान्वित होंगी, इसके लिए शिक्षा समिति का गठन करेंगे, ताकि सभी शिक्षित हों। सभी ग्राम प्रधान अपनी ग्राम सभा को स्वच्छ रखें, तो हम अच्छा काम कर सकते है। हर जनप्रतिधि किसी मजहब का नही बल्कि जनता का होता है इसलिए जनता के लिए काम करें। आवासों में पैसे दे रहे है, 90 दिन की मजदूरी दे रहे है। ग्राम प्रधान सुनिश्चित करें जो लाभार्थी है, उनका पैसा कोई और ना ले सके। स्वछ भारत मिशन के तहत शौचालय उपलब्ध कराना और 12 हजार ग्रामीण 20 हजार शहरी क्षेत्र में उपलब्ध कराएं। 

पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की 30 वर्ष पूर्व कही गई बात 100 रुपये सरकार के देने पर गांव को 10 रुपये मिलते हैं, पर उन्होंने कहा कि वह उनकी लाचारी थी लेकिन अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर 100 रुपये गांवों को भेजे जाते तो पूरे के पूरे गांव को पहुंचे। करीब 45 मिनट के संबोधन में मुख्यमंत्री ने प्रधानों को विकास का पाठ पढ़ाया और पहले चरण में 269 गांवों के बाद दूसरे चरण में 280 गांवों का चिन्हींकरण करने की बात कही। 

पर्यावरण की रक्षा को चलेगा अभियान 

विश्व पर्यावरण दिवस पांच जून से प्रदेश में पर्यावरण की रक्षा के लिए सरकार अभियान चलाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नदियों, नालों की सफाई होगी। वातारण को प्लास्टिक मुक्त बनाने की मुहिम चलाई जाएगी। सरकार पांच जून से विशेष अभियान शुरू कर रही है। 

सीएम योगी आदित्यनाथ के आगमन को लेकर सुरक्षा व्यबस्था कड़ी की गई है। यहां चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात की गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आज हरदोई में आगमन ऐतिहासिक माना जा रहा है। 

दिन में दो बजे से सर्किट हाउस में उनका समय आरक्षित है। इसके बाद 2:30 बजे से 3.30 बजे गेहूं क्रय केंद्र विकास कार्य का निरीक्षण करेंगे। 3.40 से 5.40 बजे तक कलेक्ट्रेट में विकास कार्य और कानून व्यवस्था समीक्षा करने के बाद 5.50 बजे वापसी पुलिस लाइन से लखनऊ लौटेंगे।

प्रेक्षागृह का बाथरूम तक भगवा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन को लेकर पुलिस लाइन से लेकर रसखान प्रेक्षागृह तक भगवा हो गया है। प्रेक्षागृह में की रंगाई पुताई और पर्दा आदि सब कुछ भगवा कर दिया गया है। सड़क पर भगवा झंडे भी लगाए गए हैं। इतना ही नहीं रसखान प्रेक्षागृह का बाथरूम में भी भगवा टाइल्स लग गए हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लखनऊ की निशा ने जीता महिला 5000 मीटर दौड़ का स्वर्ण

52वीं यूपी स्टेट जूनियर ( अंडर-20 पुरूष व