प्रदेश सरकार के वरिष्ठ नेताओं में से एक थे पटेल रामकुमार वर्मा  

 
लखनऊ- लखीमपुर खीरी से लगातार 5 बार विधायक रहे पटेल राम कुमार जिनका लम्बी बीमारी के बाद लखनऊ के एक निजी अस्पताल 64 वर्ष की आयु में निधन हो गया| राम कुमार वर्मा एक ऐसे नेता थे जिन्होंने कभी हार नहीं मानी थी एक साक्षात्कार में इन्होने कहा था “मेरा जीवन सिर्फ मेरी जनता को समर्पित है ” मै अपने कर्म करता रहूँगा फल देना और न देना ईश्वर के हांथो में है,उनके संघर्षो की चर्चा आज भी होती रहती है| कल्याण सिंह,राजनाथ सिंह के मुख्यमंत्री कार्य काल में केबिनेट मंत्री के रूप में प्रदेश का प्रतिनिधित्व किया व अपने विभागों को आर्थिक संकट से उबारा व कल्याणकारी योजनाओ को जनहित तक पहुँचाने में सफल रहे|
 
 
 
जनसंघ के जुझारू कार्यकर्त्ता रहते हुए इन्होने जनकल्याण के कार्य किये वर्तमान प्रदेश सरकार के गठन के समय यह उम्मीद जताई जा रही थी कि पुराने जनसंघ कार्यकर्त्ता एवं भाजपा के मुश्किल समय में भी पार्टी का साथ न छोड़ने वाले रामकुमार वर्मा को कोई महत्वपूर्ण पद मिलेगा मगर यहाँ भी इनके साथ सौतेला व्यवहार किया गया जिसका मलाल कही न कही इनके ह्रदय में गहरा घाव दे गया.

 
 
समय बदला और उत्तर प्रदेश में  पुनः भाजपा सरकार बनी राम कुमार ने निघासन विधानसभा से जीत  दर्ज की, अब अटकले तेज़ होने लगी कि राम कुमार को मंत्रीमंडल में शामिल किया जायेगा मगर किन्ही वजहों से इनके समर्थको को निराशा हाथ लगी| बाहर से आये नेताओ को मंत्रीमंडल में जगह मिली, पटेल राम कुमार को अपने ही घर में अनदेखा किया गया जिससे उनको गहरा सदमा लगा जिससे उबर पाना उनके लिए संभव नहीं था, यहाँ तक कि हाल में हुए पटेल समाज के सम्मलेन में सबसे बरिष्ठ पटेल नेता को दरकिनार कर दिया गया, कभी भाजपा के लिए मुख्यमंत्री पद का चेहरा माने जाते थे उनके लिए योगी के मंत्री मंडल में एक कोना भी नसीब नहीं हुआ|
 
The post प्रदेश सरकार के वरिष्ठ नेताओं में से एक थे पटेल रामकुमार वर्मा   appeared first on India Junction News.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button