पैसा को दोगना करने का झांसा देकर 600 निवेशकों के 40 करोड़ ठगे

सस्ते रेट में प्लाट देने और पैसा डबल करके देने का झांसा देकर पटियाला स्थित एक कंपनी की ओर से करीब 40 करोड़ की ठगी का मामला सामने आया है। कंपनी की इस ठगी का शिकार पटियाला के तकरीबन 600 निवेशक हुए हैं। त्रिपड़ी थाना पुलिस ने जांच के बाद कंपनी के सीएमडी, एमडी, डायरेक्टर समेत सात लोगों के खिलाफ साजिश रचने, धोखाधड़ी करने के आरोप में केस दर्ज किया है, लेकिन अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।
पैसा को दोगना करने का झांसा देकर 600 निवेशकों के 40 करोड़ ठगेकंपनी की ठगी का शिकार हुए ह्यूमन राइट्स सेल पंजाब बीजेपी के को कनवीनर केके जुनेजा, जो निवेशकों द्वारा बनाई विक्टिम कमेटी के प्रधान भी रहे हैं। उन्होंने अमर उजाला को बताया कि पटियाला के गुरुद्वारा श्री दुखनिवारण साहिब के पास स्थित नेचर हाईट्स लिमिटेड नाम की इस कंपनी ने लोगों को झांसा दिया कि वह अपने निवेशकों को मार्केट से सस्ते रेट पर आसान किस्तों में प्लाट देगी। अगर प्लाट न दे सकी, तो निवेशकों का पैसा 14 प्रतिशत ब्याज के साथ वापस करेगी या फिर पैसा डबल करके देगी। निवेशकों का भरोसा जीतने के लिए शुरू में इस कंपनी ने कई लोगों को उनके निवेश किए पैसे पर अच्छा ब्याज दिया। यह देखकर पटियाला से ही तकरीबन 600 निवेशकों ने करीब 40 करोड़ रुपये कंपनी में लगा दिए। लेकिन बाद में कंपनी ने तो अपने निवेशकों को प्लॉट दिए और न ही उनका पैसा डबल करके दिया।

कई बार निवेशक इकट्ठे होकर कंपनी मालिकों से मिले, लेकिन हर बार उन्हें टाल मटोल करके वापस भेज दिया जाता। इसके बाद सभी निवेशक इकट्ठे होकर डीजीपी पंजाब से भी मिले। जिसके बाद पटियाला की पुलिस ने मामले में जांच की और काफी संघर्ष के बाद त्रिपड़ी थाना पुलिस ने हरजीत कौर सहित अन्य के बयान पर नेचर हाईट्स कंपनी के सीएमडी नीरज अरोड़ा, उसकी पत्नी डोली, एमडी प्रमोद नागपाल, डायरेक्टर अमित कक्कड़, एजेंट गौरव छाबड़ा, मोनिका, सिकंदर कुमार के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। लेकिन अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

 

Facebook Comments

You may also like

पिता की हत्या कर शव के साथ जो किया…उसे जानकर होश उड़ जाएंगे

जिसने उंगली पकड़कर चलना सिखाया, उसी पिता का