पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मोदी सरकार के रवैये पर उठाए सवाल, बताया आत्मनिर्भर का अर्थ

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नरेंद्र मोदी सरकार पर एक बाए फिर से जुबानी हमला किया है। शुक्रवार को अखिलेश यादव ने दो ट्वीट करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर वाले बयान पर तंज कसा है।

अखिलेश यादव सोशल मीडिया पर बेहद सक्रिय हैं। हर मुद्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी के साथ ही उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरने वाले अखिलेश यादव ने शुक्रवार को भी आत्मनिर्भर का अर्थ समझाने के साथ ही प्रवासी मजदूरों की दयनीय हालत पर ध्यान देने की अपील की है।

अखिलेश यादव ने पहले ट्वीट में लिखा, ‘श्रमिकों को काम पर लाने के लिए तो सरकार उद्योगपतियों को पास दे रही है पर घर लौट रहे उन बेबस मज़दूरों के लिए कोई इंतज़ाम नहीं जो सड़कों पर भूखे-प्यासे मरने पर मजबूर हैं।

अब सब जान गये हैं कि ये सरकार अमीरों के साथ है और मज़दूर, किसान, ग़रीब के ख़िलाफ़ है। भाजपा की कलई खुल गई है।’

श्रमिकों को काम पर लाने के लिए तो सरकार उद्योगपतियों को पास दे रही है पर घर लौट रहे उन बेबस मज़दूरों के लिए कोई इंतज़ाम नहीं जो सड़कों पर भूखे-प्यासे मरने पर मजबूर हैं. अब सब जान गये हैं कि ये सरकार अमीरों के साथ है और मज़दूर, किसान, ग़रीब के ख़िलाफ़ है. भाजपा की कलई खुल गई है.— Akhilesh Yadav (@yadavakhilesh) May 15, 2020वहीं दूसरे ट्वीट में अखिलेश यादव ने सरकार के आत्मनिर्भरता के नारे पर शिक्षक व छात्र की बातचीत के माध्यम से तंज कसा। उन्होंने लिखा…

विद्यार्थी:’क़र्ज़’ का अर्थ क्या होता है?अध्यापक:जो दूसरे से अपना काम चलाने के लिए लिया जाए.विद्यार्थी:और ‘आत्मनिर्भर’ का अर्थ?अध्यापक:अपना काम चलाने के लिए ख़ुद पर निर्भर होना. विद्यार्थी:क्या क़र्ज़ व आत्मनिर्भर पर्यायवाची हैं?अध्यापक:?? अभी दिल्ली से पूछकर बताता हूँ!— Akhilesh Yadav (@yadavakhilesh) May 15, 2020

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button