पूजन के साथ ही स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद है दूब घास

जिन लोगों को अक्सर तनाव रहता है ऐसे लोग दूब घास को पीसकर उसका लेप अपने पैरों में लगाएं। ऐसा करने पर मस्तिष्क को ठंडक मिलती है और दिमाग की उथल-पुथल शांत हो जाती है। इसके अलावा जिन लोगों को अक्सर सिर दर्द रहता हो वे लोग दूब घास को पीसकर उसमें थोड़ा सा चूना मिला लें। फिर इस मिश्रण को सिर पर लगाएं। इससे सिरदर्द से बहुत आराम मिलता है। इसके अलावा भी दूब घास के बहुत सारे लाभ होते हैं।
ऐसे कर सकते है दुब घास का प्रयोग 
जानकारी के अनुसार शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बनाए रखने में दूब घास हमारी काफी मद करती है। इसमें एंटी-वायरल और एंटी माइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं। इस वजह से यह किसी भी बीमारी से लड़ने की क्षमता में वृद्धि करता है। इसके अलावा यह अनिद्रा, थकान और तनाव जैसे रोगों का भी असरकारी उपाय है। इसी के साथ दूब घास मच्छरजनित मलेरिया रोग के उपचार में भी काफी लाभकारी है। दूब के रस में अतीस के चूर्ण को मिलाकर दिन में दो बार चाटने से मलेरिया रोग में काफी लाभ होता है।
और भी है कई फायदे 
इसी के साथ स्तनापान कराने वाली महिलाओं के लिए दूब का सेवन बहुत लाभकारी होता है साथ ही इसके इस्तेमाल से महिलाओं संबंधी कई स्वास्थ्य समस्याओं जैसे- ल्यूकोरिया, यूरीन इंफेक्शन आदि का उपचार किया जाता है। दूब घास को हरा रक्त भी कहा जाता है। यह खून बढ़ाने में मददगार होता है। एनीमिया रोग में इसका रस पीने से काफी लाभ होता है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button